शादी मे आई भाभी ने जन्नत की सैर करवाई

प्रेषक : राहुल

हाय दोस्तों मेरा नाम राहुल है और मेरी उम्र 26 साल की है मैं भगवान का बहुत थेंक्स करता हूँ कि मैं एक बहुत ही सुंदर और हेडसम लड़का हूँ, दोस्तों मुझे बचपन से ही लड़कियों की जगह शादीशुदा औरत ज्यादा सुंदर लगती हैं, मुझे भरा हुआ शरीर ज्यादा पसंद है। दोस्तों ये कहानी आज से चार साल पहले की है, जब मैं एक शादी मे गया हुआ था और उस शादी मे जो मुझे अनुभव हुआ उसे मैं अपनी जिन्दगी में कभी भी नहीं भूल सकता हूँ, दोस्तों मैने वहाँ पर शादी मे एक गजब की औरत को देखा था।

उसकी उम्र 30 साल की होगी रंग बिल्कुल गौरा और फिगर ऐसे की आप बस पूछो मत उसकी हाइट 5’5 की थी और वो देखने मे बिलकुल स्लिम थी, लेकिन फिर भी उसके बूब्स कम से कम 36 साइज़ के थे और एक दम नुकीले और सीधे खड़े हुए थे, जैसे सबको हैल्लो कह रहे हो, कमर पतली 28 की और चूतड़ तो गजब ढा रही थी, एक दम गोल बड़े और बाहर की तरफ निकले हुए थे, सबको इन्विटेशन दे रहे हो कि आओ और मुझे छू लो उन्हें, उसकी गांड का साइज़ 40 था।

उसने हाई हील की सेंडिल पहन रखी थी और पीले ब्राउन कलर की साडी पहन रखी थी और जब वो चल रही थी तो वहाँ पर खड़े सभी आदमियों और लड़को की नज़र उसकी गांड पर जा रही थी, उसकी गांड उसका फिगर उसकी हाईट और उसकी अदाएं देखकर हर किसी का लंड हिलोरे मार रहा था वो बड़ी चुलबुल स्वभाव की थी और मैं मन ही मन भगवान से गुज़ारिश कर रहा था कि भगवान बस एक बार मुझे इस औरत को चोदने का मौका दे दे तो मैं ज़िंदगी भर आपका शुक्रगुजार रहूँगा प्लीज भगवान।

फिर तभी भगवान ने मेरी सुन ली और तभी मेरा चचेरा भाई वहाँ पर आया और उसने मेरा परिचय उस औरत से कराया और कहा कि ये दूर के रिश्ते से मेरी भाभी लगती हैं और इनका घर यहाँ से थोड़ी दूरी पर ही रहती हैं और प्लीज खाना खाने के बाद आप इन्हे इनके घर तक छोड़ आना वो इतना कहकर वहाँ से चला गया। अब वो मुझसे मुस्कुराकर बात कर रही थी, पर मेरा ध्यान उसकी बातो पर कम और उसके फिगर पर ज्यादा था और वो भी इस बात को नोटीस कर रही थी। अब मैं भीड़ मे उन्हे छूने की कोशिश कर रहा था।

लेकिन में एक बार भी सफल नहीं हुआ था और फिर खाना खाने के बाद मैने अपनी गाड़ी निकाली और वो भी फ्रंट सीट पर आ कर बैठ गयी थी। लेकिन सफ़र सिर्फ़ 10 मिनट का ही था तो मैने उनसे बस नॉर्मल बातें ही की थी और मेरी बात अभी पूरी भी नहीं हुई थी कि तभी उनका फ्लेट आ गया फ्लेट 3th फ्लोर पर था। उन्होने मुझे ऊपर आने को कहा तो मैं भी उनके पीछे पीछे चल रहा था और वो नागिन की तरह बल खाती और मटकती हुई चल रही थी। मैं अपने आप को काबू नहीं कर पा रहा था, तभी हम दरवाजे पर पहुंचे और अंदर जा कर हम सोफे पर बैठ गये और बातें करने लगे थे तभी मैने उन्हे कहा कि भाभी मुझे लगता है कि भैया बहुत ही लकी हैं जो उन्हे आप जैसी सुन्दर वाईफ मिली है।

तभी उन्होंने पूछा क्यों? और फिर मैने कहा भाभी आप बहुत ही सुंदर और सेक्सी हो और मैं तो जब से शादी मे आया हूँ बस आप को ही देख रहा हूँ भाभी आप तो बहुत ही सेक्सी हो, सच मे भाभी आप दुनिया की सबसे सेक्सी औरत हो, मैने आज तक आप जैसी सेक्सी औरत नहीं देखी है। तभी भाभी ने कहा कि तुम्हे मुझमे ऐसा क्या पसंद आया है? तभी मैने कहा आप ऊपर से नीचे तक कयामत ही कयामत हो और ये कहकर मैं थोड़ा रुक गया तो उन्होने कहा प्लीज बताओ शरमाओ मत और फिर मैने कहा मुझे आपके हिप्स (चूतड़) बहुत पसंद है। तभी वो थोड़ी सी शरमाई और हंस बोल पड़ी तुम नॉटी बॉय हो और उठकर अंदर चली गयी जब वो चली गई तो में उसके बड़े बड़े चूतड़ देख रहा था और वो मुझे बेहोश कर रहे थे और कुछ देर बाद वो वापस आई वो मेक्सी पहने हुई थी और वो सीधी किचन मे चली गयी और कुछ ड्रिंक बनाने लगी थी और में उसको देख रहा था कि उसकी बड़ी गांड मेक्सी मे कमाल की लग रही थी और तभी मैं उठकर किचन मे चला गया और उसके पास जाकर खड़ा हो गया था उसके बदन की खुशबू अब मुझे घायल कर रही थी और वो ड्रिंक बना रही थी और मेरी बैचेनी को भी महसूस कर रही थी। तभी वो मुझसे बोली देवर जी दुनिया की सबसे सेक्सी औरत तुम्हारे पास खड़ी है और तुम चुपचाप खड़े हो क्या बात है।

अब तो मेरी हिम्मत और बड़ गयी थी और मैने धीरे से अपना एक हाथ उसके चूतड़ पर रख दिया और तभी मुझे ऐसा मज़ा आया कि मैं आपको बता नहीं सकता हूँ उसके चूतड़ मेरे हाथ से भी बड़े थे और बिल्कुल रुई की तरह सॉफ्ट थे। तभी उसने गर्दन पीछे की और मुझे आँख मारी और मुस्कुरा दी और बोली क्या चाहते हो मेरे राजा मुझसे तभी मैने कहा भाभी बस एक बार तुम्हे मुझे अपनी बाँहों मे भर लेने दो प्लीज।

फिर वो बोली बस इतना ही मैने तो आज सोचा था कि मैं तुम्हे आज जन्नत की सैर करा दूं। अब ये सुनते ही मेरी ख़ुशी का ठिकाना नहीं रहा और मैने भाभी से बोला कि में तुमसे बहुत प्यार करता हूँ और फिर वो मेरी तरफ मुड़ी और मुझे किस करने लगी थी और मैने उसे कसकर अपनी बाँहों मे भर लिया और मेरे दोनो हाथ उसकी बड़ी गांड पर थे और मैने उसके दोनो चूतड़ को अपने हाथों मे भर लिया मैं उस वक़्त सातवें आसमान पर था। अब उसके बड़े बड़े बूब्स मेरे सीने से चिपक गये थे।

उसका बदन एकदम गरम था और इतना सॉफ्ट की बस मक्खन की तरह मुलायम था उस पल के एहसास को मैं अपने शब्दों मे बयान नहीं कर सकता हूँ। मेरा लंड अपने पूरे आकार मे बड़ रहा था और एकदम कठोर हो गया था उसने अपना एक हाथ मेरे लंड पर रख दिया और जीन्स के ऊपर से ही लंड को सहलाने लगी थी। फिर मैने जीन्स कि ज़िप खोली और लंड को बाहर निकाल दिया और भाभी के हाथ मे दे दिया, जब मेरे लंड पर उसके हाथ का एहसास हुआ तो मैं अब और भी जोश मे आ गया और मेरा लंड भी एकदम टाइट और बड़ा हो गया था।

तभी वो लंड को पकड़ कर बिल्कुल धीरे धीरे से मुठ मारने लगी थी और वो अब मदहोश होने लगी थी और मुझसे बोली की राहुल तुम्हारा लंड तो मुझे बहुत पसंद आया है ऐसा गोरा मोटा और लंबा लंड देखकर तो कोई भी औरत पागल हो जाए। लेकिन तुमने इस लंड को कभी कहीं इस्तमाल भी किया है या नहीं? तभी मैने कहा नहीं भाभी मैं इसे आज दुनिया की सबसे हसीन कमसीन खूबसूरत और सेक्सी औरत पर इस्तमाल करूँगा, ओहह तो ये लंड मेरे लिए ही है ना ?

मैने कहा हाँ भाभी हाँ तभी वो बोली दुनिया की सबसे हसीन औरत तुम्हारे लंड पर मर मिटी है और उसका दिल इस लंड पर आ गया है और फिर वो नीचे बैठ गयी और इतनी मस्त अदा से मेरे लंड पर जीभ फेरने लगी थी और धीरे धीरे लंड को मुहं मे भरने लगी थी वो मेरे लंड को बिल्कुल ब्लू फिल्म की हिरोइन कि तरह चूस रही थी वो मेरे लंड को मुहं से बाहर निकालती और अपने गालो पर टच करती और फिर पूरा लंड एकदम से मुहं मे भर लेती, मैं भी भाभी की अदायें देखकर बिल्कुल पागल हो रहा था।

मेरे मुहं से अपने आप ये शब्द निकल रहे थे कि में तुमसे बहुत प्यार करता हूँ, भाभी में तुमसे बहुत प्यार करता हूँ, भाभी आप तो दुनिया की सबसे सेक्सी औरत हो, वो मेरे लंड को इतनी बुरी तरह चूस रही थी कि मैने आज तक अपनी लाईफ मे किसी फिल्म या रियल मे ऐसे चूसते हुए नहीं देखा था। अब वो खड़ी हो गयी और आँख मारते हुए स्माइल दी और बोली क्यों मज़ा आया या मलाई निकाल दूं? मैं उसकी इस अदा से घायल हो गया था, वो एकदम बिंदास औरत थी। तभी मैने उसे बाँहों मे भर लिया और अब वो मुझे बहुत ज़ोर से स्मूच कर रही थी और उसकी जीभ मेरी जीभ से टकरा रही थी।

अब मुझसे रहा नहीं जा रहा था तो मैने उसकी मेक्सी को उतार दिया था। उसने ब्लैक कलर की ब्रा और पेंटी पहनी हुई थी। उसने अपने बालो को खुला छोड़ रखा था बस एक रबर बेंड डाल कर सिर के ऊपर छोटी लड़कियों की तरह चोटी बना रखी थी। मेरा लंड तो उसे देखकर ही पानी छोड़ने वाला था, अब वो बोली मेरे राजा आओ बेडरूम मे चलते हैं और मैं आज आपको असली जन्नत की सैर कराती हूँ, मैं तो उसकी हर अदा पर पागल हुआ जा रहा था। तभी मैने कहा भाभी बस एक बार आप अपनी मस्त चाल मे चलकर दिखो दो मुझे।

तभी वो बोली बस मेरे राजा और वो अपनी बड़ी गांड को मटकाती हुई और इतराती हुई हाई हील सेंडिल पहन कर मस्त केट-वॉक करते हुए बेडरूम की और चल पड़ी, मुझसे रहा नहीं गया और मैं उसके पीछे दौड़ पड़ा और उसको पकड़ लिया मेरा लंड उसके दोनो चूतड़ो के बीच मे जा टकराया मैने उसके बूब्स ज़ोर से पकड़ लिए और उसके मुलायम चूतड़ो का एहसास मुझे सांतवे आसमान पर ले गया था। मैं उसे ऐसे ही पकड़े हुए बेडरूम मे ले गया जब वो चल रही थी तो उसके दोनो भारी भरकम चूतड़ मेरे लंड के आसपास मसाज कर रहे थे।

मैने उसे इसी पोज़िशन मे दीवार से जा लगाया अब वो अपनी बड़ी गांड को मस्त अदा से हिलाने लगी थी और धीरे धीरे मदहोश होने लगी और सिसकारीयां भरते हुए बोली। मेरे राजा बस अब मुझे बुरी तरह से चोद दे, मैने उसके दोनो हाथों को दीवार पर लगाया और उसकी गांड को थोड़ा ऊपर किया। अब वो एकदम सही पोज़िशन मे खड़ी थी और मेरा लंड उसकी चूत से जा टकराया अब मैने धीरे धीरे से लंड को चूत में डालने लगा। अब मैने एकदम से एक जोर का धक्का दिया और लंड चूत में एक बार में ही पूरा चला गया। वो तो जोर से चीख उठी और कहने लगी चोद और जोर से, लगा दे पूरा का पूरा दम। अब में जोर जोर से धक्के देने लगा तभी मैने लंड को चूत से बाहर निकाल दिया और लंड को कपड़े से साफ किया और फिर से लंड को चूत में डालने लगा अब जैसे जैसे मेरा लंड उसकी चूत मे घुसने लगा वो और ज़ोर ज़ोर से सिसकियां भरने लगी और अपनी गांड को पीछे धकेलने लगी थी।

शायद उसे बहुत दर्द हो रहा था अब मैने धीरे धीरे उसे चोदना शुरू किया जैसे जैसे मैं धक्के लगाता उसके भारी चूतड़ मुझे पीछे धकेल देते जैसे कि उनमे स्प्रिंग लगा हो। मैने उसे कसकर पकड़ लिया मेरा पूरा शरीर उसकी पीठ से चिपका हुआ था। मुझे उसके गरम और मुलायम बदन के एहसास से जो मज़ा आ रहा था, उसे मैं कभी नहीं भूल सकता हूँ। मैं उसे इसी पोज़िशन मे करीब 15 मिनट तक चोदता रहा, मैने भाभी के कान मे कहा वीर्य अंदर ही छोड़ दूं या टेस्ट करना है?

ये सुनते ही भाभी पीछे मूड़ी और मेरे लंड को एकदम से अपनी चूत से बाहर निकाल लिया और नीचे बैठ कर पूरा लंड मुहं मे ले लिया और ज़ोर ज़ोर से सकिंग करने लगी थी मैने अपना वीर्य भाभी के मुहं मे छोड़ दिया और भाभी मेरे लंड को आईसक्रीम की तरह चूस रही थी। भाभी बोली तेरा वीर्य तो बहुत टेस्टी है। मैं इसका एहसान कभी नहीं भूलूंगी। मैने कहा भाभी आपका जब भी वीर्य चाटने का दिल करे आपका ये देवर उसी समय हाज़िर हो जाएगा और भाभी ने मुझे अपनी बाहों मे भर लिया और हम दोनो एक दूसरे मे खो गये।

फिर कुछ देर बाद उठकर अपने अपने कपड़े पहने और हम बाते करने लगे और फिर में अपने घर चला गया। अब तो जब भी हमे एक दूसरे कि जरूरत होती है तो हम एक दुसरे कि प्यास बुझा देते है, मैने कई बार उनकी चुदाई की और गांड भी मारी ।।

धन्यवाद …

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com