badi mehnat ke baad jannat naseeb hui

प्रेषक : राज …

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम राज है और मेरी हाईट 5 फुट 6 इंच है। में गोरे रंग का लड़का हूँ और मेरा लंड 6 इंच लंबा और थोड़ा टेढ़ा भी है। आज में आप सबको अपनी एक सच्ची कहानी बताने जा रहा हूँ जो कि मेरी और मेरी किरायेदार सोनी भाभी की है। ये बात 1 साल पहले की है और मेरा घर उत्तरप्रदेश में है डबल फ्लोर, जिसमें ऊपर हमारी फेमिली रहती है और नीचे किरायेदार। दोस्तों कहानी कुछ इस तरह से है। में साउथ इंडिया के एक कॉलेज से इंजिनियरिंग कर रहा था, मेरी इंजिनियरिंग पूरी हो गई और में अपने घर आ गया। अब घर में बस मेरी माँ रहती है, क्योंकि पापा आर्मी में है ना। अब में रात को 2 बजे घर पहुँचा और चेंज करके फ्रेश होकर कॉफी पीकर सो गया। फिर अगली सुबह उठा नहा धोकर घूमने निकला तो नीचे उतरते समय एक बहुत खूबसूरत, गोरी, स्लिम औरत पर मेरी नज़र पड़ी तो में मुस्कुरा कर बाहर चला गया।

फिर में घूमकर शाम को आया तो वो मुझे फिर दिखी और मुस्कुराई। फिर मैंने पूछा कि आप शायद हमारी नई किरायेदार है ना तो वो बोली कि हाँ, लेकिन नई नहीं हूँ, में यहाँ 3 महीनों से तो हूँ और में मुस्कुरा कर चला गया। फिर कुछ दिन नॉर्मल चलता रहा और मेरी उनके लिए कुछ ऐसी सोच भी नहीं थी। फिर एक दिन मेरा एक दोस्त मेरे घर आया और उसने भाभी को देखा तो बोला कि क्या माल है राज? तो मैंने ध्यान नहीं दिया और हम घूमने चले गये। फिर एक दिन में अपने दोस्तों के साथ घर के आस पास ही खड़ा था तो तभी सोनी भाभी अपने 1 साल के बेटे देव और पति के साथ बाईक पर कहीं जा रही थी, तभी मेरे दोस्त बोले कि तेरी किरायेदार की वाईफ क्या मस्त है? लेकिन मैंने कुछ नहीं कहा।

फिर रात को डिनर के बाद जब में बेड पर लेटा तो मेरे दोस्त की उस बात पर ध्यान गया और में सोचने लगा कि सच में सोनी भाभी कितनी सुंदर है? और उनके पति भी कितने लकी है जो इतनी सुंदर वाईफ पाई है। बस इसी दिन से मेरा दिमाग़ और लंड दोनों सोनी भाभी के दीवाने हो गये। उस रात मैंने उनके बारे में सोचकर 2 बार मुठ मारी और सो गया। फिर दूसरे दिन जब वो सुबह 8 बजे दिखी तो मैंने उनसे बात करने के लिए जानबूझ कर बोला कि बड़ी लेट उठती है आप। फिर वो बोली कि रात में सोने में लेट हो जाता है ना। इस तरह धीरे-धीरे हमारी बातचीत शुरू हो गई और अब में उनके पति से भी बात करता था और कभी-कभी उनके यहाँ उनके लड़के को खिलाने जाता था और उनके लिए चॉकलेट भी ले जाता था, अब वो मुझे अक्सर चाय पिलाती थी।

अब उनके यहाँ बैठने से अब थोड़ा बहुत मज़ाक भी होता था, वो लोग भी पंडित थे और में भी पंडित हूँ तो कभी-कभी भाभी मुझसे मज़ाक में अक्सर बोलती थी कि आप मेरी बहन रिया से शादी कर लीजिए, लेकिन में कुछ नहीं बोलता था। अब तो रोज़ में उनके बारे में सोचकर कम से कम 3-4 बार मुठ मार देता था और सोचता था कि काश ये मुझे मिल जाए तो मज़ा आ जाए। अब में उनसे मज़ाक में कभी- कभी जब भैया नहीं रहते तो डबल मीनिंग शब्द भी बोलता था। फिर एक दिन जब में उनके यहाँ बैठा था तब भैया नहीं थे। फिर वो चाय बनाकर लाई और मज़ाक में फिर बोली कि मेरी बहन रिया से शादी करोगे ना। फिर मैंने बोल दिया कि आज आप मुझे रिया की फोटो दिखा ही दीजिए। फिर वो बोली कि पहले चाय तो पी लीजिए। फिर में बोला कि नहीं आप पहले उसकी फोटो दिखाइए तो वो एलबम ले आई और रिया की फोटो दिखाई तो मेरे मुँह से निकल पड़ा कि रिया से अच्छी तो आप है। फिर वो हंसी और बोली कि में तो 1 बच्चे की माँ हूँ। फिर मैंने कहा कि ये मज़ाक नहीं है आप रिया से क्या बल्कि हमारी कॉलोनी की सभी औरतों से बहुत ज्यादा अच्छी दिखती है? अब वो ये सुनकर अंदर से खुश थी, लेकिन बोली कि मुझे ज्यादा चने के पेड़ पर मत चढ़ाओ। फिर में बोला कि भगवान कसम सच बोल रहा हूँ।

फिर थोड़ी देर के बाद वो बोली कि में काम करने जा रही हूँ आप बैठिए, लेकिन में भी ऊपर अपने घर चला गया। फिर मैंने रात में 2-3 बार मुठ मारा और सोचने लगा कि काश भाभी चोदने के लिए मिल जाए और प्लान बनाने लगा। अब में भाभी और उनके लड़के पर और ज्यादा पैसे खर्च करने लगा था। अब जब भैया कभी-कभी ऑफिस के काम से आउट ऑफ स्टेशन जाते तो में भाभी के लिए होटल से डिनर भी पैक करा कर ले आता था और शायद वो ये सब भैया को कभी नहीं बताती थी। फिर एक दिन भैया कहीं आउट ऑफ स्टेशन गये थे तो में भाभी के यहाँ बैठा था। फिर वो बोली कि सितम्बर में देव 2 साल का हो जायेगा। फिर मैंने बोला हाँ अच्छा है ना, आप उसका बर्थ-डे सेलीब्रेट करती है ना तो वो बोली कि हाँ-हाँ हर बार करते है। फिर में बोला और आपका तो वो बोली कि शादी से पहले सेलीब्रेट करती थी, लेकिन अब कहाँ हो पाता है।

फिर मैंने पूछा कि आपका बर्थ-डे कब आता है? तो वो बोली कि निकल गया। फिर मैंने पूछा कि बताओ तो सही तो वो बोली कि 17 मार्च को था। फिर थोड़ी बहुत बात हुई। फिर में ऊपर चला गया और फिर अचानक मुझको आइडिया आया कि क्यों ना आज भाभी का बर्थ-डे सेलीब्रेट किया जाए? और बस शाम को में 7 बजे के करीब मार्केट से एक केक, समोसे और कोल्डड्रिंक लेकर आया। फिर में भाभी के यहाँ गया। फिर वो बोली कि ये सब क्या है? तो मैंने बोला कि आज आपका बर्थ-डे सेलीब्रेट करेंगे। फिर पहले कुछ देर नखरे करने के बाद वो मान गई। फिर उन्होंने केक काटा और पहले मैंने उनको खिलाया और फिर वो बेड पर बैठ गई और फिर हमने साथ में पार्टी की।

फिर में 8 बजे उन्हें गुड नाईट बोलकर ऊपर चला गया और अब रात को में डिनर के बाद जब बेड पर लेटा तो 10 बजे के करीब मेरा फोन रिंग किया तो मैंने देखा कि भाभी का फोन था। फिर मैंने फोन रिसीव किया तो वो बोली कि राज थैंक्स, आज आपकी वजह से मुझे बहुत अच्छा महसूस हुआ। फिर में बोला इट्स ओके भाभी। फिर में बोला कि भाभी एक बात बोलूँ तो वो बोली हाँ बोलो। फिर में बोला कि नहीं आप कहीं गुस्सा ना हो जाओ। फिर वो बोली कि नहीं होऊँगी, बताओं ना तो में बोला ऐसे नहीं पहले आप अपने देव की कसम खाओ कि गुस्सा नहीं होगी। तभी वो बोली कि ठीक है बाबा देव की कसम में गुस्सा नहीं होऊँगी। फिर मैंने झट से बोल दिया कि आज में जब आपको पास से केक खिला रहा था तो आप बहुत सेक्सी लग रही थी, मेरा मन कर रहा था कि आपको किस कर लूँ तो वो बोल पड़ी कि तो बताना चाहिए था ना, वैसे भी आज में आपकी वजह से बहुत खुश थी।

फिर में झट से बोला कि अभी आ जाऊँ तो वो बोली कि इतनी रात हो गई है अगर आपकी माँ उठ गई तो, लेकिन मेरी ज़िद करने पर वो बोली कि ठीक है आ जाओ। फिर में बोला कि कहीं आप मज़ाक तो नहीं कर रही हो ना तो वो बोली कि नहीं-नहीं आ जाओ। में बाहर वाले रूम में ही सोता हूँ तो में धीरे से दरवाजा खोलकर नीचे गया तो उनका दरवाजा बंद था तो मैंने धीरे से नॉक किया तो उन्होंने दरवाजा खोल दिया। फिर में अंदर गया तो उनका लड़का सो रहा था। फिर वो अपने गाल मेरी तरफ करके बोली कि लो कर लीजिए। फिर में बोला कि में कोई बच्चा नहीं हूँ मुझे लिप पर करना है। फिर वो बोली कि गाल पर ही करिए, लेकिन में जाने लगा तो वो बोली कि ठीक है करिए। फिर मैंने झट से उनके लिप पर एक बार किस किया। फिर एक बार फिर 1 मिनट तक किया, लेकिन उसने मेरा साथ नहीं दिया और इस तरह 2 बार किस करने के बाद वो बोली कि अब जाओ गुड नाईट। फिर में खुश होकर ऊपर चला गया और मुठ मारकर सो गया। दोस्तों ये कहानी आप चोदन डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

फिर 1-2 दिन के बाद जब में उनके यहाँ गया तो जब भैया नहीं थे और में बैठा तो भाभी चाय लेकर आई। फिर में चाय लेते हुए बोला कि आप मुझे अब किस करने का तो लाइसेन्स दे दीजिए। पहले तो वो मना करने लगी, लेकिन मेरी रिक्वेस्ट करने पर बोली कि ठीक है जब मन करे और देखने वाला कोई ना रहे तभी किस कर लिया करो। फिर मैंने तुरंत उठकर किस किया, अब में बहुत खुश था कि अब मंज़िल करीब है और कई दिन किस करते-करते ही गुज़र गये। फिर लगभग 7-8 दिन के बाद एक दिन में दोपहर के 1 बजे बाहर से घर आया तो भाभी के बाथरूम से कपड़े धोने की आवाज़ आ रही थी तो मुझे 1 प्लान सूझा तो मैंने भाभी को फोन लगाया तो मुझे आवाज़ सुनाई दी, फोन उनके पास ही था। फिर उन्होंने जैसे ही फोन उठाया तो में धीरे से उनके बेडरूम में घुस गया और दरवाजा खोलकर उनके दरवाजे के पीछे छुप गया और उनसे फोन पर बोला कि में आपके लिए एक गिफ्ट लाया हूँ।

फिर वो बोली कि अच्छा कहाँ है? तो में बोला कि आपके बेड पर रख दिया है तो वो बात करते-करते जैसे ही कमरे में आई, वो पर्पल कलर की नाईटी पहने थी। फिर मैंने उनको बेड की तरफ धीरे से पुश किया तो वो बेड पर गिर गई और में उनके ऊपर चढ़कर उनको किस करने लगा और उनके बूब्स दबाने लगा। फिर लगभग 6 मिनट तक ऐसे ही चलता रहा। फिर में डिसचार्ज हो गया। फिर जैसे ही मैंने नीचे हाथ लगाना चाहा तो वो उठ गई और बोली कि मेरा सारा मेकअप खराब कर दिया। फिर में भी उठा और उन्हें एक किस किया और ऊपर चला गया और चेंज किया। अब मुझे जब भी मौका मिलता है तो में उनके बूब्स दबाता था, लेकिन अब मुझे उनके चूत तक पहुँचने का सुरूर था, अब में सहन नहीं कर पा रहा था। फिर कुछ दिन के बाद जाकर मौका आया जिसके लिए में तड़प रहा था, जब दोपहर के 3 बज रहे थे, उनके पति अपने काम पर गये थे। अब उस दिन मेरा रिज़ल्ट 67% आया था तो में मार्केट से कुछ मिठाई लाया था और उनके रूम पर पहुँच गया और नॉक किया। फिर भाभी ने रूम का दरवाजा खोला तो वो सो रही थी और साईड में उनका लड़का भी सो रहा था।

फिर मैंने उन्हें मिठाई दी तो उन्होंने पूछा कि ये किस ख़ुशी में दे रहे हो? तो में बोला कि मेरा रिज़ल्ट अच्छा आया है। फिर वो मिठाई साईड में रखकर जैसे ही बैठी तो मैंने उन्हें लेटा दिया और उन्हें किस करने लगा और बूब्स दबाने लगा। फिर 5 मिनट तक किस करने के बाद जब मैंने नीचे हाथ लगाया तो वो फिर से मेरा हाथ पकड़ने लगी तो में रुका नहीं बल्कि सीधे उनसे बोला कि आपको मेरी कसम है और आज आप मुझे नहीं रोकेंगी प्लीज और मैंने सीधे अपना चेहरा उनकी नाईटी में डाल दिया, वो पेंटी नहीं पहने थी। फिर मैंने सीधे उनकी चूत पर किस किया और चूसने लगा। उनकी चूत पर हल्के-हल्के बाल थे, जैसे कि 4-5 दिन पहले ही शेव किए हो। अब मैंने उनकी नाईटी और ऊपर उठा दी, अब मुझे उनकी चूत बिल्कुल साफ दिख रही थी, उनकी चूत क्या मस्त पिंक और बिल्कुल गुलाब की पंखुड़ियों की तरह थी?

अब में बहुत देर तक उसे चूसता रहा और अब मेरा लंड बहुत टाईट हो गया था और उनकी चूत से भी पानी आने लगा था। फिर में उठा और अपनी पेंट से अपना लंड बाहर निकाला, तभी भाभी ने थोड़ा उठकर एक तिरछी नज़र से मेरे लंड को देखा और लेट गई। फिर मैंने अपना लंड उनकी चूत पर थोड़ा रब किया। फिर पुश कर दिया और धीरे-धीरे मेरा पूरा लंड उनकी चूत में चला गया और लगभग मात्र 2-3 मिनिट में ही में उनकी चूत में ही झड़ गया और साईड में लेट गया। अब वो थोड़े गुस्से से मेरी तरफ देख रही थी और बोली कि अंदर ही कर दिया ना। फिर में बोला कि सॉरी मेरा फर्स्ट टाईम था तो वो हंसी और बोली कि ऐसा सबके साथ होता है। फिर थोड़ा आराम करने के बाद में फिर से उनको किस करने लगा, अब वो भी मेरा साथ दे रही थी।

फिर मैंने उनकी नाईटी और ब्रा भी उतार दी और उनके बूब्स सक किया और फिर उन्हें चोदने लगा। अबकी बार मैंने 5-6 मिनट तक भाभी को चोदा, लेकिन अबकी बार भी में अंदर ही झड़ गया, लेकिन वो कुछ बोली नहीं। इस तरह मैंने उस दिन उनको 4 बार चोदा। फिर में ऊपर चला गया। फिर में नहाया और बाहर घूमने चला गया। फिर उनका फोन आया कि राज आते टाईम गोली ले आना। फिर मैंने बोला कि ठीक है। फिर मैंने वापस आकर उनको मेडीसीन दी और किस किया और गुड नाईट बोलकर ऊपर चला गया। इस तरह हमारा सेक्स रीलेशन 4 महीने तक चलता रहा। फिर मैंने उनको बहुत सारी पोज़िशन में चोदा, लेकिन मैंने कभी भी अपना लंड उनकी गांड में नहीं डाला, क्योंकि मेरा मन वहाँ डालने का नहीं करता था। फिर वो बोलने लगी कि अगर ये सब चलता रहा तो एक ना एक दिन मेरे पति को सब पता चल जायेगा, इसलिए वो हमारे यहाँ से रूम खाली करके कहीं चली गई ।।

धन्यवाद …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com