bhabhi apne ghar le gai

प्रेषक : जय …

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम जय है, में चोदन डॉट कॉम का बहुत बड़ा फैन हूँ। दोस्तों मैंने पूजा के साथ फेसबुक पर चैट किया तो उसने मुझे बताया कि वो एक शादीशुदा है और उसकी उम्र 25 साल है और उसे अभी तक कोई बच्चा नहीं है, उसकी शादी को 3 साल हुए है, वो सूरत में रहती है और वो एक बंगले में रहती है और उसके बंगले में वो सिर्फ तीन लोग रहते है। उसका पति, वो और उसकी एक छोटी बहन, जिसकी उम्र उसने 18 साल बताई थी और उसका नाम सीमा बताया था, वो अभी 11वीं क्लास में है और सारा दिन स्कूल और कोचिंग में ही रहती है और पति बिज़नेस के सिलसिले में ही सारा दिन बाहर रहते है और रात को करीब 12 बजे तक आते है, उनका टेक्सटाइल का बिज़नस था, इसलिए वो सारा दिन बोर होती है और उसका प्रोब्लम सेक्स का था, क्योंकि उसने शादी के बाद बहुत कम सेक्स इन्जॉय किया था और वो एक असंतुष्ट महिला थी।

फिर मैंने पूछा कि में आपकी क्या मदद कर सकता हूँ? तो उसने मुझसे कहा कि तुम मेरा दिल बहला सकते हो? तो में तुरंत तैयार हो गया और मैंने कहा कि में 5 फुट 9 इंच, वजन 66 किलोग्राम, स्लिम बॉडी और मेरा लंड करीब 8 इंच लम्बा है। फिर मैंने उसके बंगले का पता पूछा, तो उसने नहीं दिया और कहा कि में तुमको पाया तो नहीं दूँगी, लेकिन में तुमको जहाँ पर बुलाऊँगी, तुम वहीं पर चले आना, मेरे पास कार है और उस कार में आकर बैठ जाना, लेकिन मेरी एक शर्त है, तो मैंने तुरंत उसकी शर्त पूछ ली, तो उसने कहा कि कार में बैठने के बाद में तुम्हारी आँख पर पट्टी बाँध दूँगी, ताकि तुम मेरा घर ना जान सको और वापस निकलने पर भी पट्टी बांधनी होगी। फिर मैंने हाँ कर दी और तो उसने मुझसे कहा कि पति तो मॉर्निंग में ही चले जाएगें और मेरी बहन मॉर्निंग में कोचिंग और वहाँ से ही स्कूल जाएगी और शाम को 6 बजे वापस आएगी। फिर हमने दूसरे दिन दोपहर 2 बजे का टाईम फिक्स किया और फिर उसने मुझे जगह बताई कि मुझे कहाँ खड़ा रहना है? और फिर वो ऑफलाईन हो गई। फिर दोस्तों मुझे तो सारी रात नींद नहीं आई और में 2 बजने का इंतज़ार करने लगा।

फिर दूसरे दिन में ठीक 2 बजे वहाँ जाकर खड़ा हो गया, तो ठीक 2 बजे एक कार आकर मेरे पास खड़ी हुई। अब उसने मुझे जो कलर की कार और जो कोड बताया था, वो सब ठीक था। फिर वो कार थोड़ी दूर जाकर खड़ी हो गई और कार का दरवाजा खोल दिया तो में इधर उधर देखकर कार में जाकर बैठ गया। अब कार में जो भाभी थी उसको देखकर मेरा तो लंड तुरंत तन गया था और मन ही मन खुश हो गया कि आज मुझे एक सेक्सी भाभी को चोदने को मिलेगी। फिर भाभी ने मेरी आँख पर पट्टी बाँध दी और कार चलाने लगी, तो थोड़ी देर बाद कार खड़ी हुई। फिर भाभी ने मुझसे कहा कि में तुम्हारी पट्टी खोल रही हूँ और तुम तुरंत बंगले के अंदर चले जाना, तो मैंने कहा कि ओके। फिर पट्टी के खुलते ही में बंगले के अंदर चला गया और भाभी मेरे पीछे आई, वो कमाल की सेक्सी लग रही थी, उसने ड्रेस भी बहुत सेक्सी पहन रखी थी।

फिर में बंगले में गया तो मुझे पता चला कि बंगले में अंदर कोई नहीं था। फिर थोड़ी देर तक बात करने के बाद भाभी मुझे अपने बेडरूम में ले गई और फ़्रीज़ में से विस्की निकालकर दो बड़े पैग बनाये और एक मुझे दिया और एक वो पीने लगी। फिर थोड़ी देर के बाद मुझे नशा चढ़ने लगा और भाभी भी नशे में आने लगी। फिर भाभी ने कहा कि डांस करना है, तो फिर हम दोनों डांस करने लगे। अब डांस करते वक़्त उसके बूब्स मेरी छाती पर लग रहे थे और मेरे नशा दुगुना हो रहा था। अब भाभी को भी मज़ा आ रहा था। फिर में उसके लिप्स पर किसिंग करने लगा और डांस करते-करते उसके बूब्स को भी रगड़ने लगा था। अब भाभी पूरी तरह से मस्ती में आ गई थी। फिर में धीरे-धीरे उसके बदन को कपड़ो से आज़ाद करने लगा तो थोड़ी देर में वो पूरी तरह से नंगी हो गई और नंगी ही डांस करने लगी। अब डांस करते वक़्त उसके बूब्स क्या उछल रहे थे? अब यह देखकर तो मेरा लंड पूरा तन गया था। फिर मैंने कहा कि अब मेरे भी कपड़े उतारो, तो उसने मेरे कपड़े उतार दिए। अब हम दोनों नंगे ही डांस करने लगे थे। दोस्तों ये कहानी आप चोदन डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

फिर में उसको बेड पर ले गया और उसके बूब्स को चूसने लगा और उसकी चूत में उंगली डालने लगा, उसकी चूत एकदम क्लीन और टाईट थी। फिर मैंने कहा कि तुमने अभी तक चुदवाया है या नहीं। तो उसने कहा कि चुदवाया तो है, लेकिन मेरे पति का तो छोटा है और वो ज्यादा टाईम तक नहीं टिक पाते और 5 मिनट में ही छोड़ देते है और कहा कि तुम्हारा तो मेरे पति से डबल है, आज मज़ा आएगा। अब में उसकी चूत में मेरी दो उंगली अंदर बाहर करने लगा था और वो मेरा लंड चूसने लगी थी। अब फिंगरिंग करते-करते वो दो बार झड़ चुकी थी और में एक बार उसके मुँह में ही झड़ चुका था। फिर 30 मिनट के बाद मैंने कहा कि चलो अब मेरा लंड लेने के लिए तैयार हो जाओ। फिर उसने कहा कि में तो कब से तैयार हूँ? तो मैंने उसके दोनों पैर अपने कंधे पर रख दिए और मेरे लंड को उसकी चूत के मुँह पर लाकर खड़ा कर दिया। अब मेरा लंड उसके मुँह पर दस्तक दे रहा था। फिर मैंने एक ही झटके में मेरा पूरा लंड उसकी टाईट चूत में डाल दिया।

फिर वो चिल्ला उठी और कहा कि हाए गांडू धीरे डालना, इतना क्यों ज़ोर लगा रहा है? रात को पति के सामने भी उसको रखना है, कही फट जाएगी तो पति को क्या कहूँगी? तो मैंने कहा कि पति को कहना कि तुम्हारे में दम नहीं है, आज में घोड़े के पास चुदवाकर आई हूँ और ज़ोर-ज़ोर से धक्के लगाने लगा। तो करीब 15 मिनट के बाद मेरी पानी निकलने वाला था तो मैंने उससे कहा कि मेरा निकलने वाला है, तो वो बोली कि अंदर ही डाल दो मैंने आई-पिल ली है और फिर में उसकी चूत के अंदर ही झड़ गया। अब उसके चेहरे पर अजीब सी ख़ुशी थी। फिर में बाथरूम में जाकर थोड़ा फ्रेश हुआ, तो वो भी बाथरूम में फ्रेश होने के लिए आ गई। अब जब वो फ्रेश हो रही थी तो उसकी गांड मेरे सामने थी। अब उसकी गांड देखकर मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया था तो मैंने उससे कहा कि चलो अब तुम्हारी गांड मारता हूँ। फिर वो बोली कि नहीं बाबा तुम्हारे इतने बड़े लंड ने मेरी चूत को तो बेहाल कर दिया है, तो मेरी गांड का क्या होगा? और मना करती रही, लेकिन मेरे मनाने पर वो मान गई और कहा कि धीरे से मारना, चूत जितना ज़ोर मत लगाना। फिर मैंने कहा कि ठीक है और फिर में उसको फिर से बेडरूम में लाया और मेरे लंड और उसकी गांड पर क्रीम लगाई और उसकी गांड में अपना लंड घुसाने लगा।

अब अभी मेरा थोड़ा ही लंड अंदर गया था कि वो चिल्लाने लगी कि मेरी फट गई है, तुम अपना लंड बाहर निकालो, लेकिन मैंने उसकी एक नहीं मानी और फिर एक ज़ोरदार झटका दिया तो मेरा पूरा लंड उसकी गांड में अंदर घुस गया और वो चिल्लाने लगी। फिर में धीरे-धीरे हिलने लगा, अब वो भी मज़े ले रही थी। अब मेरा पूरा लंड उसकी गांड में था और में मेरे जीवन का भरपूर मज़ा ले रहा था। फिर में उसकी चूत में झड़ गया और अपने कपड़े पहनकर तैयार हो गया। फिर भाभी ने मुझे पट्टी बांधकर उसी जगह छोड़ दिया, जहाँ से हम गये थे ।।

धन्यवाद …

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com