dost ki sexy biwi ka chodan

प्रेषक : जय …

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम जय है और सभी को मेरा सेक्सी तरीके से शुक्रिया। आज में आप लोगों को अपने दोस्त की बीवी की चुदाई के बारे में एक हॉट रियल स्टोरी बता रहा हूँ। मेरा एक बचपन का दोस्त है और हम दोनों एक साथ बड़े हुए है और उसकी शादी हो गई है और शादी के कुछ दिनों के बाद वो हमेशा भाभी की चुदाई कैसे करता है? बताता रहता था, जिसे सुनकर मेरा मन भी चुदाई करने को करता था और में सोचता था कि वो कैसे भाभी को चोदता होगा? और भाभी कैसे चुदवाती होगी? फिर एक दिन मैंने उससे कहा कि यार मेरा मन चुदाई करने का करता है और मेरे पास कोई जुगाड़ भी नहीं है। फिर उसने कुछ भी नहीं कहा, लेकिन फिर अगले दिन उसने मुझसे कहा कि में उसकी बीवी को चोदना चाहूँ तो चोद सकता हूँ, उसे कोई परेशानी नहीं है।

तो मैंने कहा कि भाभी क्या चुदाई के लिए तैयार है? तो उसने कहा कि नहीं, लेकिन मान जाएगी क्योंकि उसे ग्रूप सेक्स की स्टोरी सुनना अच्छा लगता है और में उसे तुम्हारे बारे में कुछ नहीं बताऊंगा, आज रात को जब में उसे ग्रूप सेक्स की स्टोरी सुनाकर उसकी आँखो पर पट्टी बाँधकर चोदूंगा, तो तभी तुम भी चोद लेना और उसे बाद में बताएगें की तुमने भी उसकी चुदाई की है। फिर रात को में उसके रूम में छुप गया, फिर भाभी आई और बोली कि तुम्हारा दोस्त गया क्या? तो वो बोला कि हाँ गया। तो भाभी ने दरवाज़ा बंद कर दिया और बोली कि कोई सेक्सी ब्लू फिल्म दिखाओ ना, तो मेरे दोस्त ने ब्लू फिल्म की सी.डी लगा दी। फिर भाभी देखते ही देखते ही गर्म हो गई और मेरे दोस्त के कपड़े उतारने लगी और फिर अपने कपड़े भी उतार दिए। अब में तो भाभी का जवानी से भरा बदन देखकर पागल हो गया था और उसे छूने के लिए मचलने लगा था।

फिर मेरे दोस्त ने भाभी की आँखो पर पट्टी बाँधकर मुझे पास में आने का इशारा किया और भाभी के बदन से लिपट गया। अब सामने भाभी को नंगी देखकर मेरे लंड में तूफान आ गया था। फिर मेरा दोस्त भाभी की चूत घोड़ी बनाकर चोदने लगा और फिर थोड़ी देर में उसने अपना लंड बाहर निकाल लिया और मुझे इशारा किया कि में अपना लंड डाल दूँ। फिर मैंने तुरंत ही अपना लंड भाभी की चिकनी चूत में डाल दिया, तो मेरा लंड जाते ही भाभी बोली कि अचानक से तुम्हारा लंड इतना मोटा क्यों लग रहा है? तो मेरे दोस्त ने उसकी आँखो पर से पट्टी खोल दी। फिर भाभी ने पलटकर मुझे देखा तो मुस्कुराई और कहा कि मुझे ऐसा ही लग रहा है, में भी यही चाहती थी कि मेरी चुदाई दो-दो लंड से हो और मुझे आज खूब ज़ोर-ज़ोर से चोदो। फिर क्या था? अब में तो भाभी को खूब मस्ती में चोदने लगा था और भाभी आहें भरने लगी थी, अब में कभी भाभी की कमर पकड़ता, तो कभी चूची पकड़ रहा था। दोस्तों ये कहानी आप चोदन डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

फिर थोड़ी देर के बाद मैंने अपना लंड बाहर निकाल लिया और भाभी को सीधा लेटा दिया और कहा कि तुम बहुत सेक्सी लग रही हो और भाभी की चूत को अपने मुँह में लेकर चूसने लगा। फिर भाभी सिसकने लगी और में उसकी चूत को अपने होंठो में भरकर ज़ोर-ज़ोर से चूमने लगा। अब भाभी एकदम तड़पने लगी थी और कहा कि मेरी प्यासी चूत में अपना मोटा लंड डालकर इसकी प्यास बुझा दो। फिर मैंने भाभी के ऊपर चढ़कर उसकी चूत में अपना लंड डाल दिया और उसकी चूची को अपने मुँह में लेकर स्वर्ग का मज़ा लेने लगा। उस समय मेरे दोस्त ने भाभी से कहा कि में तो पहले से ही जानता था कि तुम चुदवा लोगी, क्योंकि तुम ग्रूप सेक्स की स्टोरी सुनकर बहुत जोशीली हो जाती थी और आज तुम्हें चुदते हुए देखने में बड़ा मजा आ रहा है, लेकिन तुम दोनों मेरे सामने ही चुदाई करना, नहीं तो लोगों को शक हो सकता है। फिर भाभी ने कहा कि अगर किसी को ना पता लगे तो हर औरत चुदवाना चाहती है और यहाँ तो आप मुझे चुदवा रहे है, अब तो में हर रात आप दोनों से चुदवाना चाहती हूँ। फिर रातभर मैंने और मेरे दोस्त ने मिलकर भाभी को खूब चोदा और उसके पूरे बदन को खूब प्यार किया। फिर हर 2-3 दिन में हम तीनों साथ-साथ चुदाई करने लगे। फिर एक दिन मेरे दोस्त का ट्रांसफर पुणे में हो गया और हम लोग अलग हो गये। अब आजकल मेरा मन चुदाई के लिए बहुत तड़पता है और मेरा दिल करता है कि भाभी वापस आ जाए, लेकिन ये हो नहीं सकता है ।।

धन्यवाद …

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com