ek baar chudai ki chahat

प्रेषक : राज …

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम राज है और में पंजाब से हूँ। आज में आपको मेरी सच्ची स्टोरी बताने जा रहा हूँ। मैंने इस साईट पर कई कहानियाँ पढ़ी है, मेरी ये रियल स्टोरी मेरी और मेरी फोन पर बनी गर्लफ्रेंड की है, इससे पहले मेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं थी। ये बात कुछ साल पहले की है, जब मुझे एक अंजान नंबर से मिस कॉल आई तो मैंने रिटर्न कॉल की तो उधर से एक स्वीट सी आवाज़ आई और वो आवाज़ एक लड़की की थी। फिर मैंने पूछा कौन हो? तो उसने अपना नाम मुंजन बताया। फिर मैंने शुरुवात में इग्नोर किया और 1 हफ्ते के बाद फिर से फोन आया। फिर मैंने सोचा कि कोई फ्रेंड तो मेरे साथ मज़ाक नहीं कर रहा है, फिर मैंने ये चैक करने के लिए उससे कहा कि मेरे मैसेज पैक डलवा फिर बात करूँगा, तो उसने डलवा दिया, फिर मुझे यकीन हुआ कि ये कोई मज़ाक नहीं कर रहा है।

फिर हमारी फोन पर बात होने लगी, फिर उसने पूछा आगे क्या करना है? तो मैंने कहा कि तुम्हें प्यार करना है, तो उसने कहा कि ओके आई लव यू टू। फिर उसने कहा कि मैंने उसे बस में नंबर दिया था, तो मैंने उसे बता दिया कि मैंने किसी को नम्बर नहीं दिया, वो गुरदासपुर की थी। अब हमारी कॉल पर पूरे दिन बात होने लगी, अब हम फोन पर एक दूसरे को किस देते थे। फिर हमारा रोज ही फोन सेक्स शुरू हो गया, अब वो मुझसे बहुत प्यार करने लगी थी, शायद में भी करने लगा था। फिर उसने कहा कि शादी के बाद क्या क्या करोंगे? और मैंने उससे बूब्स का साईज़ पूछा तो उसने 34 बताया। फिर मैंने उससे कहा कि तुम्हारे बूब्स मेरे हाथ में कब आयेंगे? तो उसने कहा कि जल्दी आ जायेंगे, अब वो बहुत सेक्सी बातें करती थी।

अब जब भी उसका कॉल या मिस कॉल आता, तो में रिटर्न कॉल करता। अब उससे बात करते वक़्त मेरा लंड खड़ा हो जाता और उसने कहा कि वो बहुत सुंदर है देखेगा तो पागल हो जायेगा। अब इस तरह 1 साल तक हमारी कॉल पर बातें होती रही। फिर मैंने उससे मिलने के लिए कहा तो वो मान गयी। फिर हमने अमृतसर में गोल्डन टेम्पल में मिलने का प्लान बनाया। में मंगलवार को सुबह ट्रेन में एक फ्रेंड को साथ ले गया। फिर वो अपनी एक फ्रेंड के साथ मिलने आई वो दिखने में बहुत सुंदर थी और वो ब्लेक टॉप में कहर ढा रही थी, वो एकदम पटाखा थी। फिर हमने रेस्टोरेंट में लंच किया और फिर मैंने उसे किस का इशारा किया और एक होटल में चलने के लिए कहा तो वो मान गयी। फिर हम रूम में पहुंचे तो मैंने उसे हग कर लिया और उसे किस किया। अब में उसका नीचे वाला होंठ चूस रहा था और वो मेरा ऊपर वाला होंठ चूस रही थी।

फिर मैंने एक हाथ से उसके बूब्स को दबाया और उसे टॉप उतारने के लिए कहा। अब में तो उसे ऐसी हालत में देखकर पागल ही हो गया, अब वो शर्मा रही थी तो मैंने ही पकड़ कर उतार दिया। फिर मैंने उसकी ब्रा के ऊपर से ही अपने दोनों हाथों से उसके बूब्स दबायें और उसकी ब्रा भी उतार दी। फिर में उसके बूब्स पर टूट पड़ा और चूसने में भी मज़ा आ गया। अब में पहली बार किसी के बूब्स को चूस रहा था, बूब्स चूसकर तो मज़ा ही आ गया और फिर उसे बेड पर लेटाकर पेट पर किस किया। फिर उसकी जीन्स खोली और उसकी पेंटी भी उतार दी, अब वो पूरी नंगी थी। अब मेरा लंड पूरी तरह से खड़ा था, फिर उसने मेरे कपड़े उतार दिए। फिर मैंने उसकी चूत को चाटा तो अब वो मदहोश हो गयी और फिर वो मेरा लंड पूरा मुँह में लेकर चूसने लगी। फिर मैंने उसकी चूत में अपना लंड डाल दिया तो उसे बहुत दर्द हुआ। फिर मैंने उसे किस किया और अपना पूरा लंड डाल दिया, उसकी चूत बहुत टाईट थी। दोस्तों ये कहानी आप चोदन डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

फिर में धीरे-धीरे हिलने लगा, फिर जब वो शांत हुई तो ज़ोर-जोर से धक्के मारने लगा। अब उसकी सील टूट गयी थी और खून भी निकल रहा था, फिर कुछ देर के बाद उसे भी मज़ा आने लगा और अब वो  भी अपनी गांड उठा- उठाकर साथ देने लगी। फिर 20 मिनट तक चुदाई करके हमने पोजिशन चेंज की। अब में लेट गया और वो मेरे ऊपर लंड चूत में लेकर बैठ गयी। फिर वो ऊपर नीचे होने लगी और में भी नीचे से धक्के लगाने लगा, अब पूरा कमरा आ उहह की आवाज़ो से गूंजने लगा था। फिर मैंने पीछे से उसकी चुदाई की और अब वो बस आआअहह उहह बोल रही थी और उसका मुँह पूरा लाल हो गया था। अब वो झड़ गयी थी और में भी झड़ गया और उसके ऊपर ही हग करके लेट गया। फिर कुछ देर के बाद मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया तो मैंने उससे कहा कि मुझे तुम्हारी गांड भी मारनी है तो वो मना करने लगी।

फिर मैंने उससे रिक्वेस्ट कि तो वो मान गयी, फिर मैंने उसे डॉगी स्टाइल में होने के लिए कहा तो वो अपनी गांड ऊपर उठाकर डॉगी स्टाइल में हो गयी। फिर मैंने उसकी गांड पर किस किया और कुछ थप्पड़ मारे, अब उसकी गांड लाल हो गयी थी। फिर मैंने उसकी गांड के छेद पर तेल लगाया और एक उंगली डाली और फिर दो उंगलियां डाल दी, अब मैंने अपना लंड उसकी गांड के छेद पर सेट किया और धक्का मारा, तो उसे बहुत दर्द हुआ और उसके मुँह से आआअहह की आवाज़ निकली। फिर मैंने अपना पूरा लंड उसकी गांड में डाल दिया, फिर धीरे-धीरे हिलने लगा और उसकी गांड मारने लगा। मुझे गांड मारना ज्यादा अच्छा लगता है। फिर कुछ देर के बाद वो फुक मी हार्ड कहने लगी और जवाब में गांड आगे पीछे हिलाने लगी, अब मुझे उसकी चुदाई करने में बहुत मज़ा आया। फिर शाम को हमने एक दूसरे को बाय कहा और एक लम्बा स्मूच किया। फिर कुछ महीने के बाद हमारी कम बातें होने लगी, फिर मैंने उसे कॉल किया तो उसका नंबर व्यस्त आ रहा था।

फिर आधे घंटे के बाद फोन किया तो भी व्यस्त आ रहा था तो मैंने पूछा कि नंबर व्यस्त क्यों है? तो वो कहने लगी कि आज के बाद मुझे कॉल मत करना, शायद अब उसे कोई मिल गया था। अब मुझे थोड़ा सा बुरा लगा जब उसने ये कहा और फिर हमारी बातें बंद हो गयी ।।

धन्यवाद …

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com