nokar se chudi naye shahar me

प्रेषक : मोना …

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम मोना है। मैंने इस साईट पर कई कहानियां पढ़ी है, अब में आपको एक अपनी सच्ची कहानी बताने जा रही हूँ, जो मेरे साथ हुई। मेरी शादी हुए 3 साल हो गये थे और में अपने पति के साथ नये शहर में आ गयी थी, हमें उधर सब व्यवस्था करने में काफ़ी टाईम निकल गया। फिर मैंने अपने पति राज से बोला कि घर पर एक नौकर रख लो तो वो मान गये और अपने पड़ोस में ढूँढने लगे, लेकिन फिर एक मिल गया। उसकी उम्र कुछ 28 साल की होगी, मजबूत कद का और लंबे कद का था और उसका नाम मोहन था। वो शाम को घर आया, मेरे पति कहीं गये हुए थे और उन्होंने मुझे बोला था कि मोहन शाम को घर आयेगा तो में बात कर लूँ।

मैंने अपने 36-30-34 फिगर पर साड़ी डाली हुई थी और मेरा ब्लाउज गले से बहुत छोटा था। तभी डोर बेल बजी और मैंने दरवाजा खोला तो देखा कि मोहन बाहर खड़ा हुआ था और फिर बोला मेडम में मोहन तो में उसे अंदर ले आई और उसकी नज़र मेरी चूचियों पर ही थी। फिर मैंने देखा कि वो थोड़ा झिझक रहा था और में उसे सभी काम समझा रही थी, तभी में किसी काम से नीचे झुकी और मेरा पल्लू नीचे गिर गया और मेरे 36 साईज के बूब्स आधे बाहर नज़र आने लगे, वो उन्हें घूर के देख रहा था और फिर वो चला गया और अब जब राज ऑफिस में होते थे, तभी वो आता था और मेरी बॉडी को देखते-देखते काम किया करता था। मुझे शुरू से ही पॉर्न देखने की आदत थी तो कभी-कभी में राज के साथ भी देखती थी। दोस्तों ये कहानी आप चोदन डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

एक बार मैंने स्कर्ट पहनी थी और उसके ऊपर शॉर्ट टॉप था और में रूम में पॉर्न देख रही थी और स्कर्ट ऊपर करके अपनी चूत को मसल रही थी, तभी वो अन्दर आ गया और एकदम से मेरा पानी निकल आया, लेकिन मैंने स्कर्ट तुरंत नीचे कर दी और कुछ बूंदे स्कर्ट पर गिर गई, उसने देखा और चला गया। फिर एक दिन में लॉन में घूम रही थी और मैंने साड़ी पहनी थी और में हमेशा से छोटे गले का ब्लाउज ही पहनती हूँ। तभी मैंने देखा कि मोहन बाथरूम में पेशाब कर रहा था और मैंने उसका 8 इंच का लंड देख लिया और मन ही मन बहुत खुश हो गई, क्योंकि मेरे पति का मुश्किल से 6 इंच का था। फिर में अचानक से बाथरुम की तरफ गई और दरवाजा खोला तो वो घबराकर उसे छुपाने लगा। फिर में उसे अपने साथ रूम में ले गई और बोली कि तुमने जानबूझ कर दरवाजा खुला छोड़ा था कि में देख लूँ तो वो बोलने लगा कि नहीं मेडम। मैंने सोचा कि आप अंदर होगी, खैर फिर मैंने धोखे से अपना पल्लू गिरा दिया और बोली कि अपने कपड़े उतारो तो वो मुस्कुरा दिया और नंगा हो गया। फिर में उसके लंड को सहलाने लगी, उसका लंड मोटा और काला था। फिर उसने मेरी साड़ी और ब्लाउज को उतार दिया और मुझे बेड पर लेटाकर चूमने लगा और एक हाथ से पेटिकोट भी उतार दिया।

मैंने पेंटी नहीं पहनी थी और एक उंगली मेरी चूत में अंदर डालकर चूत में घुमाने लगा, में धीरे-धीरे आवाजे करने लगी। फिर वो बोला कि मेडम आपकी तो अभी भी टाईट चूत है। फिर में बोली कि मोहन तुम ढीली कर दो। फिर उसने ब्रा के हुक खोल दिए और अब में उसके सामने एकदम नंगी थी, वो मेरी चूचियों को चूसने लगा और काट भी लेता था। फिर मैंने बोला कि मोहन आराम से करो, अपने पास पूरा दिन है। फिर में उसका लंड मुँह में लेकर चूसने लगी और 10 मिनट तक चूसने के बाद सारा पानी मेरे मुँह में ले लिया और पी गई। फिर हम थोड़ी देर चिपक कर लेटे रहे और फिर थोड़ी देर के बाद फिर उसका लंड टाईट हो गया था। इस बार उसने मुझे लेटाया और मेरी टांग फैलाकर अपना लंड मेरी चूत पर रख दिया और धक्के मारने लगा तो में चिल्ला पड़ी, आआहह आह्ह्हह्ह मोहन आराम से डालो। फिर वो बोला कि मेडम कुछ नहीं होगा, सब ठीक हो जायेगा और एक ज़ोर का धक्का मारा और पूरा लंड चूत में अंदर चला गया, में दर्द से तड़प उठी। फिर उसने धक्के लगाने चालू किए और बोला कि मोना मेडम आप बड़ी मस्त हो और 20 मिनट तक हमने चुदाई की और उसने अपने लंड का सारा पानी मेरी चूत के अंदर ही डाल दिया। फिर हमने कपड़े पहने और वो चला गया। अब में घर पर नंगी भी होती हूँ तो वो सारा काम करता है और हम चुदाई भी करते है और जब पति रात में शिफ्ट पर होते है तो वो आता है और हम एक साथ सोते है ।।

धन्यवाद …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com