nokrani ne apni behan ko chudwaya

प्रेषक : राहुल

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम राहुल है और में फिर से आपके लिए अपना एक नया सेक्स अनुभव लेकर आया हूँ। दोस्तों मेरी सेक्स की भूख मेरी नौकरानी मिटाती है और में उसके साथ हर 2 या 3 दिन में मौका मिलते ही सेक्स करता था, लेकिन फिर एक दिन जब मैंने उसे चोदने के लिए अपने कमरे में बुलाया। तो वो बोली कि नहीं आज नहीं कर सकती, तो मैंने पूछा कि क्या परेशानी है? ज़्यादा पैसे चाहिए क्या? तो वो बोली कि नहीं ऐसी बात नहीं है, लेकिन आज मेरी तबियत ठीक नहीं है। फिर मैंने उसे अपना लंड दिखाया और बोला कि इसका क्या करूँ? इसे तो चोदने के लिए चूत चाहिए, तो वो बोली कि ठीक है में इसका इंतज़ाम शाम को कर दूँगी, पैसे दे दो। फिर मैंने उसे पैसे दे दिए और शाम को उसका इंतज़ार करने लगा।

फिर शाम को जब वो घर आई, तो उसके साथ एक और औरत थी, उसकी उम्र थोड़ी कम थी, शायद 25-26 साल की रही होगी। फिर में समझा की शायद उसकी कोई फ्रेंड होगी, लेकिन वो उसकी छोटी चचेरी बहन थी और उसका नाम नीता था। फिर उसने हम दोनों को मिलाया और फिर वो मुझे देखकर मुस्कुराकर बोली कि ये लो तुम्हारे लंड की भूख मिटा लो। अब में उसकी जवानी देखकर खुश हो गया था और उसके बूब्स 34 के होंगे, कमर 30 की और गांड 36 की थी और वो बहुत गोरी थी। अब में उसे चोदूंगा ये सोचकर ही मेरे मुँह में पानी आ गया था। फिर मैंने अपनी नौकरानी से कहा कि ठीक है जाओ तुम अपना काम करो और मुझे अपना काम करने दो। नीता शायद पहली बार अपनी पति के अलावा किसी और से चुदने वाली थी। दोस्तों ये कहानी आप चोदन डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

फिर मैंने जल्दी से रूम का दरवाज़ा बंद किया और उसको अपनी बाँहों में भर लिया। अब वो बहुत शरमा रही थी, तो मैंने उससे कहा कि में तुमसे छोटा होकर भी नहीं शरमा रहा, तो तुम क्यों शर्मा रही हो? तो वो बोली कि कुछ नहीं आप जल्दी से अपना काम करो। फिर मैंने जल्दी से अपने कपड़े उतारे और उसको बिस्तर पर सीधा लेटा दिया और उसके होंठो को चूमने लगा, ममममममममम क्या टेस्ट था? फिर धीरे- धीरे वो भी साथ देने लगी, तो हम दोनों एक दूसरे के होंठो को चूसने लगे। फिर मैंने उसकी साड़ी उतारी और उसका ब्लाउज भी जल्दी से उसके बूब्स से अलग कर दिया, आहह बिना ब्लाउज के उसके बूब्स कितने बड़े लग रहे थे? फिर में उसके बूब्स को अपने मुँह में लेकर चूसने लगा और अपने एक हाथ से दबाने लगा, तो वो थोड़ी चिल्लाई और बोली कि आआआआ धीरे दबाओ, लेकिन में नहीं माना और उसके बूब्स को ज़ोर-ज़ोर से दबाने लगा और धीरे-धीरे अपना एक हाथ नीचे ले गया और उसका पेटीकोट झट से उतार दिया, उसने पेंटी नहीं पहनी थी, आआआआआआआ क्या नज़ारा था? उसकी चूत एकदम फ्रेश लग रही थी, उसकी चूत के ऊपर थोड़े-थोड़े बाल थे।

अब मुझसे रहा नहीं गया तो मैंने जल्दी से एक कंडोम निकाला और उसको बेड पर सीधा लेटा दिया और उसकी टांगो के बीच में बैठ गया और उसकी चूत के छेद में अपना लंड डालने के लिए उसकी चूत को फैलाने की कोशिश की। उसकी चूत शादी के बाद भी बहुत टाईट थी, शायद उसका पति उसको चोदता नहीं था, या फिर उसके पति का लंड छोटा था। फिर मैंने उसकी चूत को चाटना शुरू किया, ताकि मेरा लंड उसकी चूत में आराम से घुस जाए। फिर उसकी चूत को चाटने के बाद मैंने उसकी चूत पर अपना लंड रखा और धीरे से अंदर डालने लगा, लेकिन मेरा लंड अंदर नहीं जा रहा था तो मैंने ज़ोर से धक्का दिया, तो वो चिल्ला उठी आईईईईई धीरे से डालना। फिर मैंने कहा कि तेरी चूत टाईट है, तो में क्या करूँ? और ज़ोर-ज़ोर से धक्के मारने लगा। अब वो चिल्ला रही थी आआआआअ धीरे-धीरे करो। फिर उसकी आवाज़ सुनकर मेरी नौकरानी आ गयी और बोली कि आवाज़ क्यों कर रहे हो? चुपचाप चुदाई करो।

फिर मैंने उसे आवाज़ देकर अंदर बुलाया कि देख ये चिल्ला रही है, तो वो अंदर आई और बोली कि धीरे से चोदना, इसको आदत नहीं है, तो में बोला कि तू मदद कर और उसने उसकी दोनों टांगो को पकड़कर थोड़ा फैला दिया, तो में उसे चोदने लगा। अब वो भी मजे लेने लगी थी। फिर मैंने कहा कि डॉगी स्टाइल में आ जा। फिर मेरी नौकरानी ने उसे समझाया कि ऐसे झुक जा, तो वो झुकी। फिर मैंने ज़ोर से अपना लंड उसकी चूत में डाल दिया, आआआआआहह उसकी चूत में कई विस्की की बोतल से भी ज़्यादा नशा था। फिर में उसे ज़ोर-ज़ोर से चोदने लगा और कुछ देर के बाद मेरा पानी निकल गया और में अपने बिस्तर पर पड़ा रहा। फिर थोड़ी देर के बाद वो चली गयी। फिर मैंने अपनी नौकरानी से कहा कि इसे कल भी लाना, तो वो बोली कि पता नहीं, उसे इतनी ज़ोर से चोदा है कि पता नहीं आएगी या नहीं। फिर मैंने कहा कि उसे कैसे भी करके लाना? उसे जो भी चाहिए में दूँगा, तो वो बोली कि ठीक है। दोस्तों यह मेरा एक और अनुभव था, जो मैंने आप लोगों के साथ शेयर किया ।।

धन्यवाद …

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com