raat me do lodo ne gaand faad dali

प्रेषक : नुपुर …

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम नुपुर है और में देहरादून की रहने वाली हूँ, लेकिन अभी में चंडीगढ़ में रहती हूँ। मेरी उम्र 19 साल है और रंग गोरा, मेरी हाईट 5 फुट 4 इंच है और 34-32-36 साईज का फिगर है। यह कहानी तब की है जब में चंडीगढ़ में पढ़ती थी। में वहाँ एक फ्लेट में रहती थी और आस पास के कई लड़को की नज़र मुझ पर होती थी, लेकिन में उन पर ज्यादा ध्यान नहीं देती थी, क्योंकि लड़के तो लड़कियों को देखते ही है, लेकिन मुझे नहीं पता था कि एक दिन यही नज़रे मुझे कही का नहीं छोड़ेगी। मेरे कॉलेज में एक लड़का पढ़ता था जिसका नाम गौरव था, उसका रंग काला और वो बिहारी टाईप का लड़का था। उसने कई बार मुझसे पढाई में मदद माँगी थी और में भी एक क्लासमेट होने का फ़र्ज़ निभाते हुए उसकी मदद कर देती थी।

एक बार परीक्षा का दिन था और में कुछ पढ़कर नहीं गई थी तो मैंने एग्जॉम में चीटिंग करने के लिए चिट्स अपनी गोरी जांघो पर रबड़ के सहारे रखी हुई थी। अब मेरी पास की सीट पर गौरव भी बैठा हुआ था, लेकिन मेरा ध्यान टीचर पर था कि वो कब वो अपना मुँह कही और करे और में चिट्स निकाल सकूँ। फिर जैसे ही मैंने चिट निकालने के लिए अपनी स्कर्ट ऊपर की तो गौरव मेरी जांघो को देखने लग गया और उसे भूखे जानवर की तरह घूरने लग गया। अब उसका बस चलता तो वो मेरी स्कर्ट को नीचे करने ही नहीं देता, लेकिन मैंने उसे इग्नोर कर दिया। अब वो मुझे कई बातों से बुलाने लग गया था, लेकिन में अपने भोलेपन और फ्रेंड्ली नेचर की वजह से उसकी बातें ना समझकर उसकी मदद कर देती थी। फिर एक दिन मेरी एक फ्रेंड का बर्थ-डे आया और उसने लगभग सारी क्लास को इन्वाइट किया, जिसमें गौरव भी था।

फिर में भी अपनी ब्लेक कलर कि ड्रेस पहनकर चली गई, जो स्लीवलेस थी और नीचे से मेरे घुटनों के ऊपर तक थी और ऊपर से क्लीवेज के शुरुआत से शुरू थी। उस पार्टी में ड्रिंक्स भी थी और फिर मैंने भी सबके साथ मिलकर टक़ीला के शॉट्स लगाए और खूब नाचे। अब हम सबने पीते-पीते वोड्का और दारू पी ली और गौरव ने ये बात देख ली और उसने सबसे कम पी थी। अब उसने नाचने के जोश-जोश में मुझे हर बार एक वोड्का पकड़ा दी थी और एक ग्लास में नशे की एक गोली डालकर दे दी थी, जिसे पीने से में और नशे में हो गई थी। फिर पार्टी ख़त्म होने पर सब अपने-अपने घर जाने को तैयार होने लग गए और अब सब नशे में थे, जिसमें से में सबसे ज्यादा नशे में थी।

फिर गौरव ने मुझे घर छोड़ने को बोला और में कुछ ना समझते हुए कि मेरे साथ कौन है? में चलती रही। फिर वो मुझे अपनी कार में अपने एक और गंदे से दोस्त जॉनी के घर ले गया, जो हरियाणा के किसी गावं में था। फिर वहाँ उन्होंने मुझे बेड पर फेंका और वो दोनों मुझे देखने लग गए। फिर जॉनी ने गौरव से कहा कि आज क्या माल लाया है? आज तो जमकर इसकी चूत का मज़ा लेंगे। फिर उन दोनों ने अपने-अपने कपड़े उतार दिए और अपने फोन से सब रिकॉर्ड करने लग गए। जॉनी उम्र में बड़ा और बहुत ज्यादा गंदा था, फिर उसने मेरी ड्रेस उतारी और गौरव को वीडियो बनाने के लिए अपना फोन पीछे से पकड़ा दिया। फिर जॉनी ने मेरे बूब्स मेरी ब्लेक ब्रा के ऊपर से ही चूसने शुरू कर दिए और मेरे दोनों हाथ ऊपर कर दिए, जिससे मेरी चिकनी आर्म्सपॉइंट उसे दिखने लग गई। फिर गौरव ने जॉनी से कहा कि क्या सही रंडी है? पहले से तैयार होकर मिली है। फिर जॉनी अपना दूसरा हाथ मेरी काली पेंटी में डालकर मेरी चूत को सहलाने लग गया। अब में बस नशे में आआआ ओहहह करने लग गई थी, लेकिन में उन्हें रोकने की हालत में नहीं थी।

फिर गौरव मेरी टाँगे ऊपर करके मेरी सहलाती हुई चूत के पास से रिकार्डिंग करने लग गया। फिर जॉनी ने मेरी पेंटी और ब्रा निकालकर फेंक दी। अब मेरे नंगे बूब्स और चूत उनके सामने थे, मेरे निपल का साईज़ थोड़ा बड़ा है जिसे देखकर गौरव पागल हो गया और मेरे बूब्स को कुत्तों की तरह मसलने लग गया और मेरे दूसरे बूब्स को अपने दातों से काटने लग गया और मेरे निपल को अपनी उंगलियों में लेकर दबाने लग गया। अब दूसरी तरफ से जॉनी ने मेरी पिंक चूत को चाट-चाटकर पूरा गीला कर दिया था। अब मुझमें तो इतनी भी हिम्मत नहीं थी कि में उन्हें रोक पाऊँ। बस अब में अपने साथ होती घटना पर अंदर ही अंदर से रो रही थी। फिर जॉनी ने गौरव को हटा दिया और मेरी चूत में अपना लंड डालने लग गया। अब मेरी वर्जिन चूत के लिप्स के बीच में उसका लंड ऊपर नीचे हो रहा था, जिससे मेरी चूत का पानी उसका लंड पी रहा था। फिर उसने मेरी टाँगे फैलाई और अपना लंड मेरी चूत के अंदर घुसा दिया। दोस्तों ये कहानी आप चोदन डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

अब मेरी चूत से निकलता खून उसके लंड पर भी लग गया था और अब उस हालत में मेरी चीख निकल गई थी। फिर में आह माँ में मर गई करके चिल्लाई और अब गौरव हंसते हुए वीडियो बना रहा था। फिर जॉनी ने अपना बड़ा लंड मेरी चूत में अंदर बाहर करना शुरू किया। अब उसके चोदने की स्पीड से पूरे रूम में छप-छप की आवाज़े गूँज रही थी और अब गौरव नीचे से मेरी चुदती चूत का वीडियो बना रहा था। जॉनी इतना राक्षस था कि मुझे चोदते हुए भी उसका स्पर्म मेरी चूत में होने के बावजूद भी वो मुझे चोदे जा रहा था। अब उसका वीर्य उसके लंड पर भी लगा हुआ था और मेरी चूत में भी उसका वीर्य भर गया था। फिर वो 5 मिनट रुका और मुझे बेड पर छोड़कर पानी पीने लग गया। फिर उसके बाद भी वो दोनों नहीं रुके और मेरे बूब्स पर अपने लंड मारने लग गए।

फिर जॉनी बेड पर लेट गया और गौरव ने मुझे उसके लंड पर बैठा दिया। अब मेरा नशा थोड़ा कम हो रहा था और मेरा दर्द का एहसास भी बढ़ता जा रहा था। फिर जॉनी ने मेरे बूब्स को चूसकर और फिर मेरे बूब्स को अपनी छाती से चिपकाकर मेरी चूत को चोदना शुरू कर दिया। अब मेरा नशा थोड़ा-थोड़ा कम हो रहा था तो मैंने उसी दौरान अपनी गांड एक बार में ऊपर कर ली, जिससे उसका लंड बाहर निकल गया, लेकिन जॉनी को ये हरकत पसंद नहीं आई और गौरव भी घबरा गया। अब उसे पता लग गया था है कि मेरा नशा कम हो रहा है तो गौरव ने मेरी गांड पर एक ज़ोरदार चाटा मारा और फिर जॉनी ने मेरी गांड को पकड़ा और उसे फैलाकर अपना लंड नीचे से मेरी चूत में इतनी ज़ोर से धक्का मारा, जिससे मेरे मुँह से चीखे और आँसू आने लग गए।

अब में अयाया आआआ करने लग गई थी और नशीली आवाज़ में बाचाओ बचाओ भी कर रही थी, लेकिन जॉनी मेरी चूत में और ज़ोर-ज़ोर से धक्के मार रहा था जैसे कोई दीवार में कील ठोकने के लिए हथोड़ा मारता है, इससे जॉनी जल्दी झड़ गया और उसने फिर से अपना सारा माल मेरी चूत में ही डाल दिया, लेकिन उसने मेरी चूत से अपना लंड बाहर नहीं निकाला और मुझे अपने ऊपर रखकर अपनी आँखे बंद करके ज़ोर-ज़ोर से साँसे लेने लग गया। अब गौरव भी वीडियो बना-बनाकर थक गया था और फिर उसने इंतज़ार ना करते हुए सीधे मेरी गांड पर अपना लंड मारा और मेरी गांड में अपना लंड डाल दिया। अब मेरी चूत में जॉनी के वीर्य से भरा लंड था और अब मेरी गांड में गौरव का लंड अंदर बाहर हो रहा था। अब में तो बस मम्मी-मम्मी करके रोए जा रही थी और गौरव पीछे से मेरे बूब्स को मसल रहा था और जॉनी मेरे सामने हँसे जा रहा था। फिर गौरव ने भी मेरी गांड में अपना सारा माल डाल दिया और फिर मुझे ऐसे ही बेड पर छोड़ दिया। फिर अगले दिन मुझे होश आने पर उन्होंने मुझे धमकी दी कि अगर मैंने किसी को कुछ भी बताया तो वो मेरा वीडियो फैला देंगे और जब भी वो कहे मुझे उनकी हर बात मानी पड़ेगी और फिर गौरव मुझे मेरे फ्लेट पर छोड़ आया ।।

धन्यवाद …

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com