सेक्सी पड़ोसन मोनिका को चोदा

सेक्सी पड़ोसन मोनिका को चोदा

प्रेषक : राज …

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम राज है और मेरी उम्र 21 साल है। में दिल्ली का रहने वाला हूँ और मेरी हाईट 5 फुट 9 इंच है, मेरा वजन 72 किलोग्राम है और मेरा कलर गौरा है। में एक अपार्टमेंट में रहता हूँ। मेरे घर के पीछे एक बंगला है और वहाँ एक सेक्सी भाभी रहती है, उसका नाम मोनिका है, वो 26 साल की है, उनका फिगर साईज 36-30-35 है। उनका कलर फेयर और हाईट 5 फुट 5 इंच है। उसके एक 5 साल का लड़का है, उसकी अपने पति के साथ नहीं बनती है। में अपनी खिड़की से उसके बेडरूम में देखता रहता था। खासकर रात को वो और उसका बेटा बेड पर सो जाते थे और पति देव जमीन पर बिस्तर लगाकर सो जाते थे, तो तब मुझे उस पर तरस आती थी। में उसे देखता रहता था और कई बार उसे पता चल जाता था। वो कपड़े सुखाने बाहर कमपाउंड में आती थी तो तब में उसके बूब्स देखने की कोशिश करता था, उसका ध्यान जाता तो भी वो कुछ नहीं करती थी।

फिर एक दिन में घर पर अकेला था तो मेरे मोबाईल पर एक अंजान कॉल आया तो उधर से आवाज आई कौन? तो मैंने कहा कि में राज हूँ। फिर उसने कहा कि हाए राज में तुमसे फ्रेंडशिप करना चाहती हूँ। क्या सेक्सी आवाज थी उसकी? तो मैंने उससे पूछा कि ओके आपका शुभ नाम? तो उसने कहा कि नाम जानकर क्या करोगे डियर? तो मैंने कहा कि लेकिन नाम तो बताओ, तभी तो में फ्रेंडशिप करूँगा ना डियर। फिर उसने कहा कि मेरा नाम “म” से शुरू होता है और में तुम्हारे एरिया में ही रहती हूँ, मुझे तुम बहुत पसंद हो। फिर मैंने कहा कि ओके कब मिलोगी? तो उसने कहा कि टाईम आने पर। अब जब में घर में अकेला होता तो उसके फोन आते थे।

फिर एक दिन फोन आया तो उसमें वही गाना बज रहा था, जो मोनिका के घर में बज रहा था तो में समझ गया तो मैंने कहा कि ओके मोनिका भाभी कभी मिलो तो सही, तो उसने झट से फोन रख दिया। फिर थोड़ी देर के बाद उसने वापस से फोन किया और बताया कि तुमने मुझे पकड़ ही लिया, ओके में कल अकेली हूँ तो हम दोनों घूमने जाएँगे। फिर मैंने कहा कि ठीक शाम को 8 बजे ओके? तो उसने कहा कि ओके। फिर हम बाइक लेकर निकले, अब उसके बूब्स मेरी पीठ पर दब रहे थे। अब में जोर से ब्रेक मारता और ज़्यादा दबाता। फिर हम दोनों अतिरा गये वहाँ अंधेरा रहता है और वहां कपल बैठते है। फिर मैंने अपनी बाइक रोकी और खड़ी की और उसको बाइक पर बैठाया और में पास में खड़ा रहा और फिर हमने बातें शुरू की। फिर मैंने अपना एक हाथ उसकी जांघ पर रखा और उसके चेहरे के करीब गया। अब हम बात कर रहे थे। फिर मैंने पूछा कि तुम अपने पति के साथ खुश हो? मैंने तुम दोनों को लड़ते झगड़ते देखा है। फिर उसने कहा कि नहीं, लेकिन क्या करूँ किस्मत में वही लिखा है?

फिर मैंने कहा कि में तुम्हारा पक्का दोस्त हूँ और तुम चिंता मत करो। फिर उसने मेरा हाथ पकड़ा और कहा कि थैंक्स और कसकर मेरा हाथ पकड़े रखा। फिर मैंने उसे अपनी बाहों में भर लिया और उसके गाल पर किस कर दिया तो उसने कहा कि पागल किस लिप्स पर करते है। फिर मैंने उसके लिप्स पर क़िस दी आ लंबी क़िस्स्सस्स म्‍म्म्मममम। फिर मेरा हाथ उसके बूब्स पर गया, तो उसने मेरा लंड पकड़ा और कहा कि सोचा था उससे बड़ा है, लेकिन अभी नहीं फिर कभी ओके? फिर मैंने कहा कि ओके और फिर हम वहाँ से निकल गये। फिर एक दिन वो घर पर अकेली थी और मेरे मम्मी पापा भी आउट ऑफ स्टेशन गये थे और में भी अकेला था। फिर दोपहर को 1 बजे मेरा फोन बजा तो मैंने उठाया, हाए राज में मोनिका अभी तुम दरवाजा खुला रखो, में 10 मिनट में आ रही हूँ, तो मैंने कहा कि ओके। फिर वो मेरे घर पर आई तो मैंने दरवाजा लॉक किया। फिर हम बेडरूम में गये तो मैंने वो दरवाजा भी बंद किया और उसने मुझे वैसे ही अपनी बाहों में भर लिया, तो मैंने भी उसे अपनी बाहों में लेकर प्रेस किया और किसिंग की, उसने कुर्ता पजामा पहना था।

फिर मैंने उसके बूब्स रगड़े और उसका कुर्ता ऊपर किया। फिर मैंने उसकी ब्रा में अपना एक हाथ डाला और उसके बूब्स दबाए और धीरे से उसका कुर्ता ऊँचा किया और निकाला और उसका पजमा भी उतारा, तो उसने भी मेरी टी-शर्ट उतारी और मेरी शॉर्ट उतारी। फिर मैंने उसके बूब्स उसकी ब्रा के ऊपर ही चूसे। अब वो मेरा लंड दबा रही थी। फिर मैंने उसकी ब्रा अपने दातों से खोली तो मुझे 2 बड़े- बड़े बूब्स दिखे और में हैरान हो गया। फिर मैंने कहा कि मोनिका भाभी आपके बूब्स गजब के है, तो उसने कहा कि भाभी नहीं मोनिका कहो। फिर मैंने कहा कि ओके मोनिका और क़िस की और एक दूसरे की जीभ सक की। अब में उसके बूब्स पर भूखे शेर की तरह टूट पड़ा था। फिर मैंने उसके बूब्स चूसे और थोड़ा बहुत काटा भी, तो वो चिल्लाने लगी आआआहह, उहहह नहीं राज धीरे मेरे बूब्स खा ज़ाएँगा क्या? तो मैंने कहा कि काश में खा पाता।

फिर मैंने उसकी पेंटी उतारी और उँगलियाँ करने लगा। फिर उसने कहा कि राज इसे सहलाओ इसमे रात को बहुत खुजली होती है। फिर मैंने कहा कि आज सब मिटा दूँगा, तो उसने कहा कि बस अब तुम लेट जाओ, तो में लेट गया। फिर उसने मेरी अंडरवेयर उतारी और मेरा लंड पकड़कर बोली कि इसको कहाँ छुपा रखा था? यही तो मुझे चाहिए है। फिर मैंने कहा कि मेरी जान ये तुम्हारे लिए ही तो है। फिर उसने कहा कि में किस करूँ? तो मैंने कहा कि जो करना हो करो, आज ये तुम्हारा गुलाम है। फिर उसने पहले क़िस की और फिर बोली कि में सक करूँ? तो मैंने कहा कि कभी किया है? तो उसने कहा कि नहीं, लेकिन शादी के पहले ब्लू फिल्म में देखा था। फिर मैंने कहा कि ओके, लेकिन तुम 1 मिनट बैठो में अभी आया। फिर में शहद लेकर आया और उससे कहा कि इसे मेरे लंड पर लगाओ और बाद में सक करो।

फिर उसने मेरे लंड पर शहद लगाया और कहा कि अब। फिर में बोला कि अंदर से बर्फ की प्लेट ले आओ, तो वो अंदर गयी और ले आई। फिर मैंने कहा कि अब तुम सक करो और अपनी चूत 69 पोज़िशन में मेरे चेहरे पर लाओ। फिर तो वो मेरे ऊपर 69 की पोज़िशन में लेटी तो मैंने बर्फ के टुकड़े उसकी चूत में अंदर डालना शुरू किया और वो मेरा लंड चूसने लगी। फिर मैंने 8 बर्फ के टुकड़े उसकी चूत में डाले तो उसकी चूत ठंडी हो गयी। फिर बाद में मैंने अपनी जीभ उसकी चूत में डाली और अंदर बाहर करने लगा। फिर वो मोनिंग करती गयी और मेरा लंड चूसती गयी और फिर हमने ऐसा 15 मिनट तक किया। अब वो गर्म हो चुकी थी और बर्फ बिल्कुल पानी हो गया था। फिर उसने कहा कि राज थोड़ी देर रुको में जरा मूतकर आती हूँ तो मैंने कहा कि ओके। फिर वो बाथरूम में गयी और मूतने के बाद बाहर आई और बोली कि राज तुमको तो बड़ा अनुभव है, मैंने आज तक सिर्फ़ देखा था, लेकिन आज कर भी लिया ऐसा मज़ा मुझे मेरी 5 साल की शादीशुदा लाईफ में भी कभी नहीं आया और अभी चुदाई तो बाकी है। फिर मैंने कहा कि चुदाई में तो में तुझे पागल कर दूंगा।

फिर में लेटा और उससे कहा कि चल बैठ रॉकेट पर में तुझे दुनिया की सैर करवाता हूँ तो वो बैठ गयी। तो मैंने कहा कि अब ऊपर नीचे होना शुरू करो, तो वो शुरू हो गयी, लेकिन उसे बहुत दर्द हो रहा था। अब वो धीरे-धीरे हिल रही थी और मेरी गाड़ी टॉप गियर में थी तो मैंने कहा कि यार थोड़ी उछल और फास्ट कर। फिर उसने कहा कि मैंने इतना बड़ा देखा भी नहीं तो फास्ट चुदवाऊं भी कैसे? बहुत दर्द कर रहा है। फिर मैंने कहा कि ओके तुम लेट जाओ में चोदता हूँ। फिर वो अपने दोनों पैर फैलाकर लेट गयी, तो मैंने अपना 9 इंच लम्बा और एकदम मोटा लंड अंदर डाला तो वो मुझसे चिपक गयी। फिर मैंने एक बर्फ का टुकड़ा अपने होंठो में दबाया और उसके होंठो, गालों पर रगड़ने लगा और धीरे-धीरे धक्के मारने लगा। अब वो उहह आआआहह, म्‍म्म्मह, राज धीरे प्लीज कर रही थी।

फिर मैंने पूरा बर्फ पिघला दिया और फिर अपने धक्को की स्पीड बढाई और करीब 40 मिनट तक धक्के मारता रहा। फिर उसने कहा कि राज आज फाड़ डालो, तो ये सुनकर मुझमें जोश आ गया और मैंने अपनी स्पीड सीधी 70 पर मिनट की कर दी और वो मेरे धक्के खाती गयी और चिल्लाने लगी। फिर मैंने अपने होंठ उसके मुँह पर दबा दिए और उसका चिल्लाना बंद करवाया। फिर मैंने अपनी स्पीड और बढ़ाई और 20 मिनट तक उसकी चुदाई करता गया। फिर उसने कई बार मुझे धीरे करने को कहा, लेकिन मेरा ब्रेक फैल हो गया था तो मैंने कहा कि पेट्रोल ख़त्म हो जाने पर ही रॉकेट रुकेगा। फिर उसने कहा कि बस अब उतर जाओ, लेकिन में उसकी चुदाई करता गया और पूरी 30 मिनट की चुदाई के बाद मेरा पेट्रोल उसकी चूत में ही गिर गया और में उतर गया। फिर उसने कहा कि राज मुझे तुम्हारी पत्नी की चिंता हो रही है फर्स्ट नाईट में ऐसा मत करना वर्ना बेचारी को रात को ही हॉस्पिटल में लेकर जाना पड़ेगा और बोली कि तुम बहुत अच्छी चुदाई करते हो।

फिर उसने मुझे किस दिया और कहा कि में बार-बार तुमसे चुदवाने आउंगी, चोदोगे ना? तो मैंने कहा कि यह चैन तुम्हारे लिए हमेशा खुली है जब मन चाहे चुदवाने आ जाना, मेरा लंड हमेशा तैयार है और फिर हमारा यह सिलसिला चालू रहा और अभी भी चालू है और हमेशा रहेगा, क्योंकि मुझे चोदने में बहुत मज़ा आता है ।।

धन्यवाद …

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com