shalini chud gai doctor se

प्रेषक : दीपक शर्मा …

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम दीपक है और में इस साईट का नियमित पाठक हूँ और आज में आपको मेरा पहला सेक्स अनुभव बताने जा रहा हूँ। ये बात साल 2011 की है, जब में अपनी मेडिकल की पढ़ाई के लिए उत्तरप्रदेश के एक कॉलेज में था। मेरे वहाँ पर एक मरीज भर्ती हुआ, हमने उसकी जान बचाने के लिए दिन रात एक कर दिया और वो ठीक भी हो गये। शुरूवात में उनके साथ एक रिपोर्टर लड़की थी, जिसने आकर फालतू में लड़ाई की थी और ये बात उसकी कज़िन (शालिनी) जो कि उस मरीज की ही बेटी थी, उसको भी बिल्कुल पसंद नहीं थी। जब इलाज शुरू हो गया और मरीज ठीक होने लगा तो उसकी बेटी (शालिनी) को लगा कि उसकी रिपोर्टर बहन ने ग़लत बर्ताव किया, इसलिए उसका लगाव मुझसे बढ़ने लगा। अब में आपको मेरे बारे में बता दूँ कि में 28 साल का हूँ और हाईट 5 फुट 11 इंच, लंड साईज़ 8 इंच लम्बा है।

अब शालिनी को मुझसे लगाव होने लगा था, वो प्यार में उसकी आँखो से ही देख सकता था, लेकिन शुरुवात में नहीं करना चाहता था। फिर मैंने उसको अनदेखा किया। फिर अगले दिन वो मेरे लिए खुद अपने हाथ का बना खाना लाई और हमने साथ बैठकर खाना खाया, उसके बाद में अपने ड्यूटी रूम में चला गया। फिर रात 11 बजे उसका कॉल आया कि उसे अपने पापा के बारे में बात करनी है। फिर मैंने कहा कि में आकर मिलता हूँ तो उसने कहा कि जगह बता दो वो खुद आ जायेगी तो मैंने उसे ड्यूटी रूम में बुला लिया।

अब वो आकर मेरे सामने बैठ गयी। वो 23 साल की थी और हाईट 5 फुट 4 इंच, उसका फिगर 36-30-36 था। वो बहुत हॉट और सेक्सी थी। अब वो आकर बात करती है। फिर आख़री में वो बाहर जाने के लिए खड़ी होती है और बोलती है कि डॉक्टर साहब मेरे भी पेट में दर्द रहता है, आप ही चैक कर लो। फिर मैंने कहा कि किसी दूसरी लेडी को साथ में लेकर आओ, चैक कर लेंगे। फिर वो बोली हमें आपसे डर नहीं लगता है, आपको जो चैक करना हो अच्छे से कर लो। फिर मैंने मना किया, लेकिन वो नहीं मानी और ऐसा बोलकर वो मरीज टेबल पर लेट गयी। अब जब वो लेटी तो मेरे होश ही उड़ गये, अब उसके कपड़े बिल्कुल टाईट फिट थे और मुझे उसके पिंक कलर के टॉप में से उसके बूब्स बिल्कुल साफ तने हुए दिखाई दे रहे थे, जैसे कि बड़े कच्चे आम हो और वाईट कलर की लेगी में उसकी जांघे बिल्कुल साफ दिख रही थी। फिर जैसे तैसे में उसके पास गया तो उसने हाथ लगाकर बताया कि उसको यहाँ प्रोब्लम है और मेरा हाथ पकड़कर वहाँ रख दिया और बोली कि अच्छे से चैक कर लेना।

फिर मैंने अपने हाथ से चैक करने के लिए उसके पेट को दबाया तो देखा कि वो टच करने में बहुत  मुलायम थी। फिर धीरे-धीरे वो मेरा हाथ अपनी ब्रा तक ले गयी और फिर बोली कि अब सारा में खुद ही दिखाउंगी क्या? और बोली कि सारी प्रोब्लम यहीं से शुरू हुई है और इसको यहीं दबा दो। अब में सब समझ चुका था। फिर मैंने उसकी ब्रा के ऊपर से ही उसके बूब्स को महसूस करना स्टार्ट किया, क्या बूब्स थे उसके? मानो कोई रबड़ के बॉल दबा रहे हो। फिर मैंने उसके दोनों बूब्स को दबाया, अब वो बिल्कुल मादक हो चुकी थी और सिसकारियां ले रही थी। अब वो कहने लगी कि आपने मेरे पापा को जिंदगी दी है और अब आप हमारी जान ले लो और उसने आई लव यू बोला। फिर वो खड़ी हो गयी और मुझसे चिपक गयी, अब मुझे उसके निप्पल महसूस हो रहे थे। फिर मैंने उसको किस करना स्टार्ट किया और उसके होंठो पर लंबा वाला किस किया। दोस्तों ये कहानी आप चोदन डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

फिर मैंने उसको लेटा दिया और उसके पीछे आकर लेट गया। फिर मैंने उसकी पीठ से उसके बाल हटाए और वहाँ पर किस और लीक करना स्टार्ट कर दिया। अब वो मदहोशी में पागल हो रही थी और इसी टाईम में अपने हाथ से उसके बूब्स भी दबा रहा था। फिर मैंने उसका टॉप उतार दिया और अब में उसके कानों को किस कर रहा था और मेरा एक हाथ पकड़कर अपनी चूत पर रख दिया। अब में उसकी गर्दन पर किस करने लगा। अब मैंने गर्दन से पेट तक उसको किस किया। अब मैंने उसकी लेगी उतार दी। फिर मैंने पहले पेंटी के ऊपर से ही उसकी चूत को दबाना स्टार्ट किया, पहले मैंने चूत के आस पास दबाया और फिर बाद में पूरी चूत को ही दबाने लगा। अब उसके हावभाव से मेरे हाथ गर्म हो गये थे, अब उसने अपने हाथ में मेरा लंड ले लिया और महसूस करने लगी।

फिर जब उसने मेरा अंडरवियर हटाकर देखा तो वो इतना बड़ा लंड देखकर खुश हो गयी। अब वो थोड़ा परेशान थी कि ये अन्दर कैसे जायेगा? फिर उसने झट से मेरे लंड को चूसना स्टार्ट कर दिया। अब वो इतने अच्छे से मेरा पूरा लंड अपने मुँह में ले रही थी कि में 10 मिनट में ही झड़ने को तैयार हो गया था। फिर तभी मैंने उसके मुँह से अपना लंड बाहर निकाला। अब वो नीचे मेरे अंडो को भी दबा-दबाकर चूस रही थी। अब मेरी बारी थी। फिर मैंने उसकी पेंटी उतार दी और जाकर उसकी चूत को देखने और सूंघने लगा। फिर मैंने अपने लिप उसकी चूत पर रखे तो वो पागल हो गयी, आईईइ आइ हहिईिइ आईईईई आईईईईईईई और अपनी जांघो में मेरे सर को दबाने लगी। अब में उसकी चूत को अपने दातों से काट रहा था और अब वो ये सब सहन नहीं कर पा रही थी और लगातार मौन करने लगी आ ओह आईई आहह बाबयययहही जाननूऊऊउउ सर आअहह ओह प्लीज सरर आआहह, में मर जाउंगी प्लीज, आप तो सच में मेरी जान ले लोगे और एक बार झड़ गयी।

फिर मैंने उसका पानी पिया और उसने मेरा लंड पकड़ लिया और उसको हिलाने लगी। फिर कहने लगी कि ये मेरा है और में इसी से चुदूंगी, ये सिर्फ मेरा है और अपनी टांगे फैलाकर चूत दिखाने लगी। उसकी चूत बिल्कुल जवान थी, उस पर छोटे-छोटे बाल थे। फिर मैंने अपना लंड उसकी चूत के दरवाजे पर रख दिया तो उसने कहा कि प्लीज सर, अब तो चोद दो प्लीज। फिर मैंने धक्का लगाना स्टार्ट किया, अब मेरा लंड थोड़ा ही अंदर गया था कि उसको दर्द होने लगा। अब में उसके ऊपर चढ़कर उसको किस करता रहा और लंड को वहाँ ही रहने दिया। अब मेरा लंड भी धीरे-धीरे उसकी टाईट चूत में अपनी जगह बनाने लगा था। अब मेरा पूरा लंड उसकी चूत के अंदर था, जैसे कि उसकी चूत ने उसको पूरा घेर लिया हो। फिर मैंने अन्दर बाहर करना शुरू किया तो वो मजे करने लगी। अब उसको चुदाई में मज़ा आने लगा था और बोली कि आज आप ही मेरे पति हो और मुझे रांड की तरह चोदो। फिर मैंने धक्के मारने शुरू कर दिए आहह आआअहह उूउउइईईईईईई, में मर गइिईईईईईईईईई सरररर और मारो, जमकर मारो, चोदो इस चूत को प्लीज। अब मैंने उसकी टांगे अपने कंधो पर रखी और उसकी और भी गहरी चुदाई की। अब वो 3-4 बार झड़ चुकी थी। अब मदहोशी में उसको कुछ समझ नहीं आ रहा था। अब चुदाई करते करते 30 मिनट बीत गये थे और आज उसकी चूत पूरी खुल चुकी थी। फिर उसने मुझे अपना पानी उसके मुँह में छोड़ने को बोला और उसने वो सारा पानी पी लिया ।।

धन्यवाद …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com