sonam ko chodne ki chah

प्रेषक : अदनान …

हैल्लो दोस्तों, में चोदन डॉट कॉम का नियमित पाठक हूँ और आज में आपको मेरा सेक्स अनुभव बताने जा रहा हूँ। यह स्टोरी मेरे और गर्ल्स हॉस्टल में रहने वाली एक लड़की के बीच की है। अब में आपको मेरे और उस लड़की के बारे में बताता हूँ। मेरा नाम अदनान है और मेरी उम्र 25 साल है। में दिखने में सुन्दर हूँ और में हैदराबाद का रहने वाला हूँ। मेरे लंड का साईज 7 इंच है। अब में आपको उस लड़की के बारे में बताता हूँ। उसका नाम सोनम है और उसका फिगर साईज 32-24-32 है। उसकी उम्र 19 साल है, वो दिखने में बहुत ब्यूटिफुल है।

अब में आपको बताता हूँ कि यह कहानी कैसे शुरू हुई? वो गर्ल्स हॉस्टल मेरे दोस्त के घर के पास था और मेरा वहाँ पर रोजाना आना जाना था। उसका रूम मेरे दोस्त के घर की तरफ था, तो वो अक्सर खिड़की के पास बैठी रहती थी और में उसको देखता रहता था, वो मुझे पसंद करती थी। फिर वो मेरे  साथ थोड़ी फ्रेंक हुई। अब पहले तो हमारी आँखों-आँखों में बातें होने लगी थी। फिर मैंने उसको अपना मोबाईल नंबर दिया तो उसने एक दिन मुझे फोन किया और हमने मिलने का प्रोग्राम बनाया और हम मिले, लेकिन पहली मुलाक़ात में हमने सिर्फ़ प्यार भरी बातें की, फिर दूसरी मुलाक़ात में भी ऐसा ही हुआ, लेकिन तीसरी मुलाक़ात में उसने मुझसे कहा कि इस तरह तो मज़ा ही नहीं आता कि हम मिलते है और बातें करते है और फिर वापस चले जाते है।

फिर मैंने उससे पूछा कि फिर क्या होना चाहिए? तो उसने कहा कि मुझे नहीं पता, लेकिन कुछ और होना चाहिए। फिर में समझ गया कि यह क्या चाहती है? अब में दिल ही दिल में खो हो गया और मेरे लंड ने अंगड़ाई ली तो मैंने फिर से उससे पूछा कि और क्या होना चाहिए? तो उसने कहा कि पता नहीं, लेकिन कुछ होना चाहिए और कहा कि तुम समझा करो ना, में खुद नहीं कह सकती, प्लीज तुम समझा करो नाआआआआआआअ। अब में तो बड़ी अच्छी तरह से समझ गया था और उसको चोदने की प्लानिंग बना रहा था। फिर आखिरकार मैंने उससे कहा कि फिर मेरे घर चलते है, तो वो कहने लगी कि घर में तो सब लोग होंगे। फिर मैंने उसको यह खुशखबरी दी कि घर में कोई नहीं है और सब लोग शादी में लाहौर गये हुए है और 3 दिन के बाद आएँगे। फिर वो कहने लगी कि चलो ठीक है चलो। फिर हम दोनों घर पहुँचे और टी.वी हॉल में बैठ गये और मैंने केबल ऑन कर दी और हम बातें करने लगे और केबल देखने लगे। अब में बिल्कुल उसके पास बैठा था तो मैंने उसका हाथ अपने हाथ में ले लिया, तो में हैरान रह गया कि वो इतनी गर्म हो रही थी। फिर मैंने उसको बताया, तो वो कहनी लगी कि मुझे कुछ हो रहा है। फिर मैंने उसको दबाना शुरू कर दिया, तो वो लेट गई और में उसकी मसाज करने लग गया।

फिर मैंने उसके सिर से शुरू किया और आहिस्ता-आहिस्ता उसके जिस्म पर आ गया और फिर मैंने उसके बूब्स को दबाना शुरू किया, लेकिन उसने कुछ नहीं कहा, तो में समझ गया कि उसको कोई परेशानी नहीं है। फिर जब मैंने उसके बूब्स पर अपना एक हाथ रखा तो उसने एकदम से अपनी आँखे खोल दी और में डर गया कि वो नाराज़ होगी, लेकिन यह देखकर हैरान हो गया कि उसने मेरा हाथ पकड़कर अपने बूब्स पर और दबाकर रखा और दबाना शुरू कर दिया और एक बड़ी ही सेक्सी क़िस्म की स्माइल दी, तो मेरा लंड एकदम से खड़ा हो गया। फिर उसने अपना एक हाथ आगे बढ़ाकर मेरा लंड पकड़ लिया और उसको दबाना शुरू कर दिया। अब में अपने होश खो रहा था और फिर मैंने अपना मुँह उसके मुँह में डाला और फ्रेंच किसिंग शुरू कर दी, उउउफफफफफफ्फ़ कितनी हॉट थी वो? उसको जाने कब से जवानी की आग लगी थी?

फिर मैंने उसके कपड़े उतारने शुरू कर दिए और उसके पूरे कपड़े उतारकर नंगा कर दिया, वाह क्या शानदार जिस्म था उसका? अब में तो पागल ही हुआ जा रहा था। अब मैंने पागलों की तरह उसके बूब्स को चूसना शुरू कर दिया था और वो उउउँ आआअहह उूउउफफफ्फ़ करने लगी थी। फिर मैंने उसकी चूत में अपनी एक उंगली डाल दी, तो उसकी हल्की सी सिसकी निकली। अब मैंने उसको काफ़ी गर्म कर दिया था और अब वो भी ऐसे लग रही थी जैसे कि अपने होश में नहीं हो। फिर वो झटके से उठी और मेरे कपड़े उतारने लगी और फिर जब उसने मेरा अंडरवियर उतारा तो उसको मेरा लंड देखकर झटका सा लगा और वो थोड़ी डर गई और कहने लगी कि में तुमको अपनी चूत नहीं दूंगी, यह अभी कुंवारी है और इतना बड़ा और मोटा लंड बर्दाश्त नहीं कर सकती, ऊऊफफफ्फ़ में तो मर जाउंगी। मेरी एक दोस्त ने बताया था कि पहली बार बहुत तकलीफ होती है, ना बाबा ना में नहीं चुदवाऊंगी। फिर मैंने उसको समझाया कि देखो कुछ नहीं होता तुम इन्जॉय करोगी, लेकिन वो नहीं मानी।

फिर मैंने कहा कि चलो इसको पकड़कर तो देखो कुछ नहीं होता, यह तुमको खा नहीं जाएगा। फिर वो डरती-डरती मेरे लंड से खेलने लगी और में उसके बूब्स से खेलने लगा। फिर मैंने उसको बताया कि इसकी कैसे मुठ मारते है? फिर मैंने उसको थोड़ा सा तेल दिया, तो उसने मेरे लंड पर तेल लगाकर उसकी मुठ मारनी शुरू कर दी। अब मुझे बहुत मज़ा आने लगा था और अब उसके नरम मुलायम हाथ मेरे लंड को बहुत मज़ा दे रहे थे। फिर वो मुझसे कहने लगी कि मेरा दिल तो बहुत कर रहा कि इसको अपनी चूत में लूँ, लेकिन दर्द का सोचकर डर लगता है। फिर मैंने अपनी बड़ी उंगली पर थोड़ा तेल लगाया और आहिस्ता-आहिस्ता से उसकी चूत में डाल दी, तो वो आआअहह, ऊऊऊईईईईई दर्द हो रहा है कहने लगी। फिर मैंने कहा कि अभी देखना मज़ा आएगा और थोड़ी ही देर के बाद में झड़ने को हो गया तो मैंने उसको सीधा लेटाया और उसके बूब्स पर सारा पानी गिरा दिया, मेरा वीर्य गर्म था तो उसको भी बड़ा अच्छा लगा।

फिर मैंने अपने वीर्य को उसके जिस्म पर मल दिया। फिर मैंने दुबारा से अपनी उंगली उसकी चूत में  डालकर अंदर बाहर करनी शुरू कर दी। वो दर्द से चिल्लाने लगी ऊऊफफफ्फ़, आआहह, उउउम्म में मर गई, लेकिन थोड़ी ही देर के बाद उसको मज़ा आने लगा आहह, उूउम्म्म्म अब मुझे मज़ा आ रहा है।  फिर मैंने उससे कहा कि ऐसे ही जब में अपना लंड तुम्हारी चूत में डालूंगा तो तुमको और ज्यादा मज़ा आएगा, चलो ट्राई करते है। फिर इस बार वो मान गई और अब मेरा लंड एक बार फिर से अपने जोश में आ चुका था। फिर मैंने अपने लंड पर थोड़ा तेल लगाया और अपने लंड के टोपे को उसकी चूत के होंठो पर रखा और उसकी दोनों टांगे अपने कंधों पर रख ली, क्योंकि में जानता था कि यह फिर से मस्ती करेगी।  फिर मैंने हल्का सा अपना लंड उसकी चूत में डालना शुरू किया, तो वो ऊऊफफफफफ्फ़, हाईईईईई में मर गई दर्द हो रहा है कहने लगी। दोस्तों ये कहानी आप चोदन डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

फिर मैंने एक झटका लगाया तो मेरा सारा लंड उसकी चूत में घुस गया। फिर उसने उूउउफ्फ, उूउउम्म्म्म, हाईईई, आआआहह करके चीखना चाहा, लेकिन मैंने एकदम से अपना मुँह उसके मुँह में डाल दिया और फ्रेंच किसिंग शुरू कर दी। फिर उसने बड़ी कोशिश की वो मेरे लंड को बाहर निकाल दे, लेकिन मेरा लंड था कि बाहर आने को तैयार ही नहीं था। अब मुझको भी बहुत मज़ा आ रहा था और में पहली बार वर्जिन चूत ले रहा था। उसकी चूत इतनी टाईट थी कि मुझे अंदर डालने के लिए काफ़ी जोर लगाना पड़ा था। अब उसकी आँखों से आँसू निकलने शुरू हो गये थे, लेकिन मैंने उसके अंदर बाहर करना शुरू कर दिया और जोर-जोर से झटके लगाने शुरू कर दिए थे। अब वो काफ़ी फड़फडा रही थी, लेकिन मैंने भी उसको ऐसी पोजिशन में लिया हुआ था कि वो लाख छूटने की कोशिश करने के बावजूद भी नहीं छुड़ा सकती थी। वो काफ़ी तड़पी, लेकिन मैंने उसको जोर-जोर से चोदना शुरू कर दिया हाईईईईई, उउऊओ, आहह।

अब उसको मज़ा भी आने लगा था और अब उसकी आँखों में वही मस्ती भरी हुई थी। फिर मैंने उसकी दोनों टांगे अपने कंधों से नीचे उतारी और उसकी चूत को देखा तो उसमें से खून निकल रहा था। अब वो परेशान हो गई थी, तो मैंने उससे कहा कि कोई बात नहीं, यह पहली बार में होता है। फिर मैंने उसका खून कपड़े से साफ किया और उसको डॉगी स्टाइल में होने को कहा, तो वो तुरंत ही तैयार हो गई। फिर मैंने थोड़ा सा तेल अपने लंड पर लगाया और फिर उसकी चूत में डाला और उससे पूछा कि आआहह मज़ा आ रहा है ना? तो वो बोली कि बहुत मजा आ रहा है। फिर मैंने जोर-जोर के झटके लगाने शुरू दिए। फिर काफ़ी देर की चुदाई के बाद वो काफ़ी फड़फडाने लगी, तो में समझ गया कि यह झड़ने वाली है और वही हुआ। फिर उसने जोर-जोर से झटके लिए और उसकी चूत से जूस निकलने लगा। फिर मैंने वो जूस भी अपने लंड पर लगाया और फिर उसकी चूत में डाल दिया।

अब मुझे इतना मज़ा आ रहा था कि में आपको बता नहीं सकता और फिर काफ़ी लगातार चुदाई के बाद मेरा लंड भी झटको के साथ झड़ गया और मैंने उसके बूब्स पर अपना सारा पानी डाल दिया। फिर उसके बाद हम एक साथ बाथरूम में नहाये और नहाते समय मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया। फिर वो समझ गई कि यह फिर से मुझको चोदने के लिए तैयार है। फिर उसने मेरा लंड पकड़ा और हल्के से अपनी चूत में डाल दिया और मुझसे कहने लगी कि मुझे जोर-जोर से चोदो, मेरे अंदर की आग बुझा दो। फिर मैंने उसको खूब चोदा। फिर उसके बाद हम बेडरूम में आए, तो उसने कहा कि में तो ऐसे ही डर रही थी, यह तो बड़ा मज़े वाला काम है, में चाहती हूँ कि आज रात में तुम्हारे साथ ही रहूँ और अपनी जवानी की आग बुझाऊँ। फिर मैंने कहा कि मुझे तो कोई ऐतराज़ नहीं तुम यहाँ रह सकती हो, लेकिन मेरी एक शर्त है, तो उसने कहा कि वो क्या? तो मैंने कहा कि हम घर में कपड़े नहीं पहनेगें, हम नंगे ही रहेगें, तो वो भी मान गई।

फिर उसके बाद वो किचन में गई और कुछ खाने का इंतज़ाम करने लगी। फिर जब में अंदर किचन में गया, तो वो ज़रा झुककर कुछ तलाश कर रही थी, तो मुझे उसकी चूत सामने नज़र आई तो मेरा लंड एकदम से खड़ा हो गया और मैंने चुपके से उसके पीछे जाकर अपने लंड पर थोड़ा सा थूक लगाया और लंड बिल्कुल सही जगह पर रखकर एक झटका लगाया, तो उसकी एकदम से चीख निकली ऊईईईईईई, फिर क्या था? मैंने जोर-जोर के झटके लगाने शुरू किए और इस बार उसकी चूत पर अपना सारा पानी गिरा दिया। आहह उउउऊहह वो क्या हसीन रात थी? फिर मैंने उसको उस रात 4 बार चोदा और काफ़ी फिंगरिंग की। फिर सुबह जब हम उठे, तो उससे चला भी नहीं जा रहा था। फिर मैंने देखा तो उसकी चूत सूज चूकी थी, तो मैंने उस पर मलहम लगाई। फिर वो वापस तैयार हो गई, लेकिन इस बार मैंने उसको मना कर दिया कि अब तुम्हारी तबीयत ठीक नहीं है, में तुमको अगली बार चोदूंगा, तो वो बड़ी मुश्किल से मानी और फिर वो तैयार होकर अपने कॉलेज और फिर अपने हॉस्टल चली गई।

धन्यवाद …

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com